यूपी चुनाव: अखिलेश-शिवपाल की रार का फायदा उठाने में लगे हैं सपा प्रत्याशी

शिवपाल, मुलायम और अखिलेश के बीच कलह में पार्टी उलझी हुई हैं। ऐसे में आगरा की एक सीट पर इस रार का लाभ लेने की कवायदें तेज हुई हैं।

Subscribe to Oneindia Hindi

आगराशहर में सपा का एक स्वघोषित प्रत्याशी विधानसभा क्षेत्र पर दावा ठोक रहा है। सोशल मीडिया पर चलाए जा रहे कैंपेन से इस विधानसभा क्षेत्र में सपा कार्यकर्ता भी अचरज में हैं। वहीं विधानसभा चुनाव में सपा की रार का फायदा उठाने में लोग लगे हुए हैं। ऐसा ही एक मामला आगरा में उत्तर विधानसभा सीट पर देखने को मिल रहा है। Read Also: यूपी के मजदूर ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिख बेटे के लिए मांगी इच्छा-मृत्यु

यूपी चुनाव: अखिलेश-शिवपाल की रार का फायदा उठाने में लगे हैं सपा प्रत्याशी
 

इस सीट से सपा की प्रत्याशी डॉ. कुंदनिका शर्मा हैं लेकिन तथाकथित अखिलेश समर्थक अतुल गर्ग इस सीट से खुद को प्रत्याशी घोषित करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं। चुनावी कैंपेन के लिए व्हाट्सएप ग्रुप का सहारा लिया जा रहा है। जिसमें उन्हें उत्तरी विधानसभा सीट से अखिलेश यादव द्वारा प्रत्याशी घोषित करने पर बधाइयां दी जा रही हैं। शिवपाल यादव, अखिलेश और मुलायम सिंह के बीच कलह में पार्टी उलझी हुई हैं। ऐसे में आगरा की एक सीट पर इस रार का लाभ लेने के लिए कवायदें तेज हुई हैं।

आगरा की नौ विधानसभा सीटों की सूची मुलायम सिंह ने कुछ दिनों पहले जारी की थी। जिसमें उत्तर सीट पर डॉ.कुंदनिका शर्मा और दक्षिण सीट पर क्षमा जैन सक्सेना का नाम शामिल था। सपा में फैली रार में अखिलेश समर्थक और शिवपाल समर्थक के बीच जंग का फायदा उठाने की होड़ मच गई। ऐसे में सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर कारोबारी अतुल गर्ग को उत्तरी विधानसभा से अखिलेश यादव द्वारा प्रत्याशी घोषित करने का दावा कर दिया गया।

व्हाट्सएप के माध्यम से उत्तरी विधानसभा सीट पर अखिलेश यादव द्वारा प्रत्याशी घोषित कर देने के संदेश उन्हें दिए जाने लगे। इस संबंध में जब अतुल गर्ग से बात की गई, तो वे स्पष्ट उत्तर नहीं दे सके। व्हाट्सएप के ग्रुप के एडमिन अतुल गर्ग हैं और उन्होंने जवाब दिया कि उन्हें इस प्रकार की कोई जानकारी नहीं है। जिलाध्यक्ष समाजवादी पार्टी रामसहाय यादव से उत्तर विधानसभा सीट पर अतुल गर्ग को अखिलेश यादव द्वारा प्रत्याशी घोषित किए जाने की खबर पर बात की गई, तो उन्होंने बताया कि अभी तक कोई लिखित सूचना पार्टी हाईकमान की ओर से नहीं प्राप्त हुई है। लोगों से सुना है कि कुछ लोग प्रचार कर रहे हैं। जो भी हाईकमान द्वारा घोषित प्रत्याशी होगा, संगठन उसके साथ काम करेगा। Read Also: समाजवादी पार्टी की रार से आगरा में बसपा की बल्ले-बल्ले

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Samajwadi Party candidates are taking advantage of feud between Akhilesh Yadav and Shivpal Yadav and they are campaigning in their constituency.
Please Wait while comments are loading...