VIDEO: सेक्रेटरी की देखिए रिश्वतखोरी, फाइल पास कराने के लिए हाथ फैला देते हैं

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

अमेठी। योगी सरकार आने के बाद प्रदेश में भ्रष्टाचार मुक्त भारत की अलख जगी थी, लेकिन सरकारी तंत्रों की रगों में दौड़ती घूसखोरी ने उसे कलंकित कर दिया है। सरकार भले ही भ्रष्टाचार खत्म करने की जद्दोजहद कर रही हो लेकिन सरकारी विभागों में तैनात अधिकारियों और कर्मचारियों ने सुधरने की कसम खाई है। ताजा मामला जगदीशपुर ब्लाक का है जहां सेक्रेटरी खुलेआम रिश्वत लेते हुए कैमरे में कैद हो गया।

VIDEO: सेक्रेटरी की देखिए रिश्वतखोरी, फाइल पास कराने के लिए हाथ फैला देते हैं

आगे पढ़ें पूरा मामला

दरअसल जगदीशपुर ब्लॉक के एक सेक्रेटरी ने फाइल पास करने की एवज में रिश्वत की मांग कर डाली। लेकिन उसे शायद ये नहीं पता था कि सामने वाला व्यक्ति जिससे वो रिश्वत की मांग कर रहा है वो उसकी करतूत सबके सामने ला देगा।

फाइल पास कराने के लिए मांगी रिश्वत

फाइल पास कराने के लिए सेक्रेटरी की डिमांड पर सामने वाले व्यक्ति ने पूरे 25 हजार रुपए मांगे। रिश्वत की मांग दो हजार और 500 के नोट में की गई। लेकिन इससे पहले ही शख्स ने सेक्रेटरी को मजा चखाने की पूरी गोटी बिछा रखी थी। वो नोट गिनकर सेक्रेटरी को दे रहा था और सेक्रेटरी नोट लेकर रख रहा तभी सामने खुफिया ढंग से चलते मोबाइल के कैमरे में सेक्रेटरी की ये करतूत कैद हो गई।

जून में भी एक क्लर्क का सामने आया था मामला

आपको बता दें कि अमेठी जिले में खुलेआम रिश्वतखोरी का ये कोई पहला मामला नहीं है। 15 जून को भी जिले के जामो ब्लाक पर तैनात सहायक लिपिक सुरेंद्र यादव द्वारा टेंडर की फाइल पास करवाने के लिए ठेकेदार से खुलेआम रिश्वत लेने का मामला सामने आया था। लेकिन मामला जब डीएम योगेश कुमार के संज्ञान में पहुंचा था तो उन्होंने तत्काल प्रभाव से क्लर्क के सस्पेंशन के लिए पत्र लिख कार्रवाई के निर्देश दिए थे।

Read more: VIDEO: कोचिंग जा रही लड़की से दबंग नेता ने साथियों संग मिलकर की छेड़छाड़

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bribe Expose in this Video, watch and share
Please Wait while comments are loading...