EXCLUSIVE: यूपी विधानसभा चुनाव 2017में बीजेपी की 'खुफिया टीम' लड़ रही सोशल मीडिया का असली युद्ध

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनावों का बिगुल बज चुका है, सभी पार्टियां अपने सभी हथियार निकालकर मैदान में कूद चुकी हैं। 2014 में हुए लोकसभा के चुनाव की तरह इस चुनाव में भी सोशल मीडिया का बोलबाला देखा जा रहा है। सभी बड़ी पार्टियों ने अपने सोशल वॉर रूम बनाए हुए हैं और अपने मतदाताओं तक पहुंच बनाने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं।

EXCLUSIVE: यूपी विधानसभा चुनाव 2017में बीजेपी की 'खुफिया टीम' लड़ रही सोशल मीडिया का असली युद्ध

हालांकि इस मामले में हम जब सभी पार्टियों के सोशल वॉररूम की बात करते हैं तो भारतीय जनता पार्टी सबसे आगे दिखाई दे रही है। फेसबुक और ट्विटर पर जिस तरह बीजेपी ने अपने आधिकारिक हैंडल से धाक जमाई है वो विपक्षी पार्टियों के पसीने छुड़ा रही है। इसकी वजह ये है कि बीजेपी के पास दो सोशल मीडिया वॉररूम है। जी हां! आप सही सुन रहे हैं।

यूपी आईटी सेल से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि यह पूरी तरह प्रोफशनल टीम है, जिसके बारे में पार्टी के कई दिग्गज नेता तक नहीं जानते। यह टीम सीधे सुनील बंसल को रिपोर्ट करती है। हमारे सूत्रों के मुताबिक यही टीम यूपी बीजेपी के सभी आधिकारिक फेसबुक (www.facebook.com/bjp4up) और ट्विटर (www.twitter.com/bjp4up) हैंडल देख रही है। हालांकि हमारे सूत्र ने इस बात का खुलासा नहीं किया है कि यह टीम लखनऊ में बैठती है या दिल्ली में, लेकिन इस बात की पुख्ता जानकारी है कि यह टीम प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल को रिपोर्ट करती है।

सूत्रों ने बताया कि यह टीम भी बिल्कुल सुनील बंसल के अंदाज में काम करती है। जैसे सुनील बंसल मीडिया से दूर रहते हैं उसी तरह यह टीम भी मीडिया की पहुंच से पूरी तरह दूर है।

कैसी है यह टीम और क्या करती है काम?
सूत्रों की मानें तो इस टीम में 10 से 11 लोग हैं जो लगातार चौबीसों घंटे सोशल मीडिया पर नजर रखते हैं। बीजेपी अपने विपक्षी पार्टियों पर जो भी हमले सोशल मीडिया के द्वारा करती है वो यही टीम करती है। इस टीम में ग्रॉफिक डिजाइनर, वीडियो एडिटर से लेकर कटेंट राइटर्स और रिसर्च करने वाले हैं। करीब 6 महीने पहले तक बीजेपी के फेसबुक और ट्विटर पेज के लाइक और रीच जो थे वो कई गुना बढ़ गए हैं। उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए विज्ञापन जगत की जानी-मानी कंपनी ओएंडएम भी डिजिटल प्‍लेटफॉर्म पर विज्ञापन बनाने के लिए इस टीम के साथ बराबर सलाह मशविरा करती है।

छह माह में इस टीम ने दिखाया दम
आपको बता दे कि करीब 6 महीने पहले बीजेपी के फेसबुक पेज के लाइक करीब 2 लाख हुआ करते थे जो अब 16 लाख के करीब है। बात केवल लाइक की ही नहीं है, इस पेज की रीच प्रतिद्वंदी सपा और कांग्रेस के पेज से कई गुना आगे है। इस पेज की रीच भी हर सप्‍ताह 1.80 करोड़ लोगों तक पहुंच रही है। वहीं इस पेज पर एंगजमेंट 30 लाख से भी ज्‍यादा है। वहीं ट्वीटर पर इस पेज के 35 हजार से ज्‍यादा फॉलोवर हैं। इस ट्वीट पेज को पीएम नरेंद्र मोदी भी फॉलो करते हैं।

भारतीय जनता पार्टी के नेशनल आईटी हेड अमित मालवीय से जब इस बावत वन इंडिया हिंदी इंडिया ने फोन बातचीत की तो उन्‍होंने बताया कि उनकी कई मल्‍टीपल टीम आईटी विधानसभा चुनावों के लिए काम कर रही हैं। इस बावत जब हमने उनसे उस टीम के बारे में और जानकारी मांगी तो उन्‍होंने बताने से मना कर दिया। वन इंडिया हिंदी ने यह जानना चाहा था कि इस विशेषज्ञ टीमों का हिस्‍सा कौन है और कैसे काम करते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BJP special intelligence team are fighting social media war in up assembly election 2017
Please Wait while comments are loading...