शिवपाल यादव ने दिखाया दम, अखिलेश के करीबी को अहम पद से हटाया

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। समाजवादी पार्टी में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के बीच तकरार सुलझने के कुछ ही घंटों बाद पार्टी संगठन में बड़ा फेरबदल हुआ है। प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने मुख्यमंत्री के खास माने जाने वाले अरविंद सिंह गोप को प्रमुख महासचिव पद और राजेंद्र चौधरी प्रवक्ता पद से हटा दिया है।

shivpal yadav

पढ़ें: जस्टिस काटजू बोले, अमिताभ बच्चन का दिमाग खाली है

अपने करीबियों को कैबिनेट से बाहर किए जाने से नाराज हुए शिवपाल यादव ने मुलायम सिंह यादव से शिकायत की थी और पार्टी में छिड़े घमासान के बाद इस्तीफा भी दे दिया था। मुलायम ने किसी तरह विवाद सुलझाया था। लेकिन सभी मंत्रालय वापस मिलने और प्रदेश अध्यक्ष पद संभालने के साथ ही शिवपाल ने अखिलेश के करीबियों को दरकिनार करना शुरू किया है।

सर्वे: BJP और BSP के लिए अच्छी खबर,कांग्रेस, SP की धरती होगी डांवाडोल!

शिवपाल यादव ने जारी किया बयान
शनिवार शाम शिवपाल यादव ने बयान जारी करके कहा कि राजेंद्र चौधरी अब प्रवक्ता नहीं होंगे। उन पर किसी भी तरह के बयान जारी करन पर रोक लगा दी गई है। इसके साथ ही, अखिलेश के खास अरविंद सिंह गोप प्रमुख महासचिव पद से हटा दिए गए हैं। शिवपाल अब पार्टी के अहम पदों पर अपने वफादार लोगों को काबिज कर रहे हैं।

पढ़ें: सपा की अंदरूनी कलह में और ताकतवर हुए शिवपाल, मुराद पूरी

इनको बनाया गया प्रमुख महासचिव
प्रदेश अध्यक्ष ने अरविंद सिंह की जगह ओम प्रकाश सिंह को पार्टी का प्रधान महासचिव बनाया है। ओम प्रकाश 2007 से 2014 तक प्रधान महासचिव रह चुके हैं। घोषणा होने पर मॉल एवेन्यू स्थित आवास पर ओम प्रकाश सिंह को बधाई देने वालों को तांता लगा।

बताया जा रहा है कि राजेंद्र चौधरी की जगह अब अंबिका चौधरी को प्रवक्ता बनाया जा सकता है। हालांकि इस संबंध में अब तक आधिकारिक बयान नहीं आया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
arvind singh gope removed from chief general secretary post of samajwadi party.
Please Wait while comments are loading...