बरेली: अखिलेश को मिली साइकिल तो एक परिवार पर टूटा सपा नेता का कहर

बरेली के देवरानियां थाना क्षेत्र के गांव भुड़वा में उस समय दो परिवारों में बवाल हो गया है जब चुनाव आयोग ने अखिलेश की दावेदारी को सही मानते हुए चुनाव चिन्ह साइकिल देने का ऐलान कर दिया।

Subscribe to Oneindia Hindi

बरेली। बरेली के देवरानियां थाना क्षेत्र के गांव भुड़वा में उस समय दो परिवारों में बवाल हो गया है जब चुनाव आयोग ने अखिलेश की दावेदारी को सही मानते हुए चुनाव चिन्ह साइकिल देने का एलान कर दिया। इसी बात की ख़ुशी में जमकर दबंग नेता ने आतिशबाजी की और मना करने पर एक परिवार के घर पर जमकर पत्थरबाजी करने के साथ परिवार की महिलाओं के साथ अश्लील हरकतें भी की। फिलहाल पुलिस ने आरोपी सपा दबंग नेता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी कर ली है। ये भी पढ़ें: बरेली में प्रशासन ने हुदैबिया का कार्यक्रम रोका, आयोजकों ने कहा सपा के इशारे पर हुई कार्यवाही

बरेली: अखिलेश को मिली साइकिल तो एक परिवार पर टूटा सपा नेता का कहर
 

पीड़ित मुख़्तार अहमद के अनुसार मौलाना हनीफ उर्फ़ मौलाना बुलेट सपा का दबंग नेता है। उसे स्थानीय विधायक का संरक्षण प्राप्त है। बीती सोमवार की रात मौलाना बुलेट ने अखिलेश यादव को चुनाव आयोग से साइकिल मिलने की ख़ुशी में आतिशबाज़ी की थी जिसका विरोध किया गया।

बरेली: अखिलेश को मिली साइकिल तो एक परिवार पर टूटा सपा नेता का कहर
 
इसी बात से नाराज़ होकर मौलाना बुलेट ने अपने तीनों बेटे नहीम, सलीम, शरीफ के साथ आज सुबह उसके घर पत्थरबाजी करने के साथ चाकू से उस पर वार भी कर दिया। वहीं, उसके घर की महिलाओं को अश्लील बाते भी कही। इस घटना में बुलेट के परिवार ने मुख़्तार को चाकू मारकर घायल कर दिया और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ मारपीट भी की।
बरेली: अखिलेश को मिली साइकिल तो एक परिवार पर टूटा सपा नेता का कहर

पुलिस ने पीड़ितों का मेडिकल करवाने के लिए जिला अस्पताल भेजा है। पीड़ित परिवार की शिकायत पर डायल 100 ने कार्रवाई करते हुए आरोपी मौलाना बुलेट के साथ उसके तीनों बेटों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, स्थानीय लोग घटना को सही मान रहे हैं। लेकिन उनका यह भी कहना है कि वर्ष 2013 में इन दोनों परिवार के बीच पहले भी विवाद हो चुका है। 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bareilly sp supporter beat a family throwing stone in uttar pradesh after declaring election symbol for akhilesh yadav.
Please Wait while comments are loading...