यूपी चुनाव: रोडवेज की बसें गायब, यात्रियों को घंटों सड़क पर करना पड़ रहा है इंतजार

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बहराइच। विधानसभा चुनाव में रोडवेज बसअड्डे से 65 बसें अधिग्रहित कर ली गई। आधे से ज्यादा बसों के अधिग्रहण के चलते बस की किल्लत हो गई। लखनऊ, फैजाबाद, इलाहाबाद आदि मार्गों पर बसों का टोटा है। ऐसे में गैर जिलों से आने वाली बसों का ही सहारा है। इसके चलते यात्री बसअड्डे पर भटकते दिखे। बसों के पहुंचते ही उसमें सवार होने के लिए धक्कामुक्की की स्थिति रही। यह हालत चुनाव तक बरकरार रहने का अनुमान लगाया जा रहा है।

Read more: बहराइच: अनुपस्थित 31 मतदान कार्मिकों पर दर्ज होगी FIR, ट्रेनिंग के दौरान भी रहे लापरवाह

यूपी चुनाव: रोडवेज की बसें गायब, यात्रियों को घंटों सड़क पर करना पड़ रहा है इंतजार

शहर में स्थित रोडवेज बस अड्ड मौजूदा समय बसों की भारी कमी से जूझ रहा है। जिला मुख्यालय से परिवहन निगम के कागजों पर 105 बसें संचालित हो रही हैं। लेकिन देखरेख के अभाव में 24 बसें जर्जर अवस्था में पहुंच चुकी हैं। यह बसें रोडवेज के वर्कशॉप पर खड़ी धूल फांक रही हैं। जबकि चुनाव आयोग द्वारा 65 बसों को चुनाव कार्य के लिए अधिग्रहित कर लिया है।

यूपी चुनाव: रोडवेज की बसें गायब, यात्रियों को घंटों सड़क पर करना पड़ रहा है इंतजार

ऐसे में अब मौजूदा समय जर्जर बसों समेत महज 40 बसें ही परिवहन निगम के पास बहराइच रोडवेज बस अड्डे पर हैं। जबकि करीब 130 बसें गैर जिलों से प्रतिदिन जिला मुख्यालय आती थीं। लेकिन दूसरे बसअड्डे की बसें भी चुनाव ड्यूटी में लगी हैं। ऐसे में गैर जनपदों से आने वाली बसों की संख्या भी आधी से कम रह गई है। जबकि प्रतिदिन बहराइच से लखनऊ, फैजाबाद, सुल्तानपुर, इलाहाबाद, दिल्ली, कानपुर और आसपास के जिलों के लिए 1700 से अधिक यात्री यात्रा करते हैं।

यूपी चुनाव: रोडवेज की बसें गायब, यात्रियों को घंटों सड़क पर करना पड़ रहा है इंतजार

अचानक बसों की कमी के चलते यह यात्री संसाधन के अभाव में भटकने को मजबूर हैं। हालात यह हैं कि गैर जिलों से आने वाली बसों के पहुंचते ही उनमें सवार होने के लिए धक्कामुक्की शुरू होती है। ऐसे में जैसे-तैसे लोग अपनी मंजिल को रवाना हो रहे हैं। यात्री को सफर करने के लिए रोडवेज बस अड्डे पर घंटों खड़े रहना पड़ रहा है। बसों की कमी से निजी वाहन स्वामियों की चांदी है। मजबूरी में यात्रियों को निजी वाहनों का सहारा लेना पड़ रहा है।

सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक अवधेश कुमार पाल ने बताया कि आयोग के निर्देश पर चुनाव कार्य में जिले से 65 बसों को भेजा गया है। लेकिन इसके बावजूद मुख्यालयों पर बसों की कमी नहीं है। उन्होंने बताया की रोडवेज से संचालित सभी बसें पूर्णतया दुरुस्त हैं। बसों को विभिन्न मार्गों पर संचालित किया जा रहा है। बाहर से बसें निरंतर आ रही हैं।

Read more: शाहजहांपुर: वोट मांगने का अनोखा तरीका, प्रत्याशी ने महिलाओं से राखी बंधवाकर किया कर्ज चुकाने का वादा

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bahraich: Many UP roadways buses are unavailable today due to voting for first phase. passangers are facing problems
Please Wait while comments are loading...