यूपी में करीब 58 फीसदी विधायकों ने पांच साल में नहीं पूछा एक भी सवाल

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव का ऐलान हो चुका है। सभी सियासी दल चुनावी तैयारियों में जुटे हुए हैं। इस बीच यूपी की 16वीं विधानसभा को लेकर चौंकाने वाला आंकड़ा सामने आया है। जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश विधानसभा के 404 विधायकों में से 58 फीसदी विधायकों ने पांच साल में विधानसभा के अंदर एक भी सवाल नहीं पूछा। पीआरएस लेजिस्लेटिव रिसर्च के विश्लेषकों के मुताबिक ये बेहद खराब स्थिति है।

up assembly यूपी में करीब 58 फीसदी विधायकों ने पांच साल में नहीं पूछा एक भी सवाल

विपक्षी विधायकों ने सत्ताधारी विधायकों से ज्यादा सवाल पूछे

रिसर्च में पाया गया कि यूपी विधानसभा में पूछे गए 10 सवालों में 9 सवाल महज कुछ विधायकों ने ही पूछा। तीन विधायक ऐसे रहे जिन्होंने 500 या इससे ज्यादा सवाल पूछे। संसद की अपेक्षा यूपी विधानसभा में विपक्ष के विधायकों ने सत्ताधारी विधायकों की अपेक्षा ज्यादा सवाल पूछा था। समाजवादी पार्टी के विधायकों ने चार की औसत से सवाल पूछे जबकि विपक्षी विधायकों में ये संख्या 70 के करीब है। अधिकांश सवाल भारतीय जनता पार्टी के विधायकों की ओर से आए हैं। इनसे बिल्कुल पीछे कांग्रेस विधायक रहे।
इसे भी पढ़ें:- दलितों की पार्टी बसपा में सबसे ज्यादा सवर्ण और मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट

बता दें कि 16वीं विधानसभा में सपा को शानदार बहुमत मिला, उस समय पार्टी के 229 उम्मीदवार जीतकर विधानसभा पहुंचे। इस चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के 80 विधायक चुने गए। बीजेपी के 41 विधायक विधानसभा पहुंचे। कांग्रेस समेत अन्य पार्टियों के 28 विधायक विधानसभा पहुंचे। इनमें राष्ट्रीय लोकदल के 8 विधायक शामिल हैं। रिसर्च में जो बातें सामने आई हैं उसके मुताबिक 16वीं विधानसभा में अधिकतर विधायकों के पास स्नातक की डिग्री है। डिग्री हासिल करने वाले विधायकों ने ज्यादा सवाल पूछे हैं। पीआरएस की रिसर्च में जो आंकड़े मिले हैं उसके मुताबिक जिन विधायकों ने कॉलेज से डिग्री हासिल की है उन्होंने बिना डिग्री वाले विधायकों से ज्यादा सवाल पूछे हैं। पुरुषों की अपेक्षा महिला विधायकों ने कुछ सवाल ही पूछे हैं।
इसे भी पढ़ें:- रामलला की जन्मभूमि में मुस्लिम उम्मीदवार, क्या रंग लाएगा बीएसपी का दांव?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Around 58 percent MLAs in UP did not ask single question since the 16th assembly.
Please Wait while comments are loading...