शाहजहांपुर: यूपी चुनाव में बढ़ी तमंचों की डिमांड, पकड़ी गई हथियार फैक्ट्री

Subscribe to Oneindia Hindi

शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश में चुनाव करीब आते ही पुलिस के भी काम करने का अंदाज ही बदल गया। चुनाव आचार संहिता के लागू होने के बाद और चुनाव में किसी भी तरह की गड़बड़ी न हो इसके लिए पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करना शुरू कर दी है। इसके चलते आज शाहजहांपुर पुलिस ने अवैध असलहा फैक्ट्री का खुलासा किया। पुलिस ने मौके से तमंचे बनाते हुए दो युवकों को गिरफ्तार किया है साथ ही भारी मात्रा में बने अधबने तमंचे और तमंचे बनाने के उपकरण भी बरामद किए हैं। फिलहाल पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार पूछताछ के बाद जेल भेज दिया है। पकड़े गए आरोपियों का कहना है कि चुनाव करीब आने की वजह से तमंचों की डिमांड बढ़ गई थी। इसलिए वह वह तमंचे बनाने का काम कर रहा था। Read Also: हत्यारोपियों ने घर में घुसकर लड़की को पीटा, यूपी पुलिस ने बढ़ाया हौसला!

शाहजहांपुर: यूपी चुनाव में बढ़ी तमंचों की डिमांड, पकड़ी गई हथियार फैक्ट्री
 

दरअसल अल्लागंज थाना क्षेत्र के बगिया गांव में संतोष नाम का युवक अपने घर में अवैध असलहा फैक्ट्री चला रहा था। इसमे उसका साथ फरूखाबाद का रहने वाला सुनील देता था। सीओ सुमित शर्मा की माने तो बीती रात अल्लागंज एसओ को मुखबिर से सूचना मिली की बगिया मोहल्ले में पिछले काफी समय से अवैध असलहा फैक्ट्री चलाई जा रही है। जिसके बाद एसओ अपनी टीम के साथ बगिया मोहल्ले के संतोष के घर छापा मारा। जहां दो लोग तमंचे बना रहे थे। साथ ही तमंचे बनाने के उपकरण भी मौके पर ही थे।

सीओ कीमत माने तो जिस वक्त पुलिस ने संतोष के घर छापा मारा तो वहां से आरोपियों वे भागने की लेकिन पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार हुए युवकों ने अपना नाम संतोष बताया जो अपने घर ही काम करता था और दूसरे युवक ने अपना नाम सुनील बताया। पुलिस ने मौके से भारी तादाद बने और अधबने तमंचे बरामद किए हैं साथ ही मौके से पुलिस भारी तादाद में तमंचे बनाने के उपकरण भी बरामद किए हैं। फिलहाल पकड़े गए युवको से पुलिस ने पूछताछ के बाद जेल भेज दिया है।

पकड़े गए आरोपियों की माने तो पिछले काफी से वह अपने घर ही अवैध तमंचे की फैक्ट्री चला रहा था। दिन में वहां काम नहीं करता क्योंकि दिन लोगों को पता चल जाता था इसलिए तमंचे वह रात में बनाता था। आरोपियों की माने तो चुनाव आते ही तमंचे की डिमांड बढ़ गई थी। इसलिए वह रातों काम करता था। आरोपी सुनील की माने तो वह फरूखाबाद का रहने वाला है और बेहद गरीब है सोचा था तमंचे बना लेंगे तो कुछ पैसे मिल जाएंगे। Read Also: मिर्जापुर: एक पत्नी की ऐसी धमकी जिसे सुनकर पीएम मोदी भी होंगे खुश

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Uttar Pradesh election dates has been announced and arms are in demand. A factory is busted by Police in Shahjahanpur.
Please Wait while comments are loading...