सहारनपुर में दिन निकलते ही हुई गोलीबारी, 2 की मौत, चार घायल

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

सहारनपुर में हिंसा रुकने का नाम नहीं ले रही है। कभी जातीय हिंसा तो कभी पारिवारिक हिंसा के नाम पर लोगों का खून बहाया जा रहा है। मंगलवार को दिन निकलते ही थाना बड़गांव क्षेत्र के गांव लुकादडी में ताबड़तोड़ गोलीबारी होने से न केवल ग्रामीण सहम गए, बल्कि पुलिस प्रशासन के भी होश उड़ गए। दो पक्षों में हुए खुनी संघर्ष में दो लोगों की मौत हो गई और चार अन्य घायल हो गए। गांव में भारी मात्रा में पुलिस फोर्स तैनात किया गया है।

तीस साल पुरानी है रंजिश

तीस साल पुरानी है रंजिश

बता दें कि जनपद सहारनपुर का यह वही थाना क्षेत्र बड़गांव है, जिसमें पिछले महीनों में तीन बार जातीय हिंसा हो चुकी है, जिसमें दो युवक अपनी जान गंवा चुके हैं। इसी थाना क्षेत्र के गांव लुकादडी में जमीन को लेकर गांव के ही दो पक्षों में तीस सालों से रंजिश चली आ रही है। इसी रंजिश के तहत पहले भी दो पक्षों में विवाद हो चुका है।

दो बीघा जमीन की है लड़ाई

दो बीघा जमीन की है लड़ाई

गांव के ही रहने वाले सुभाष और महावीर पक्ष में पिछले तीस सालों से मात्र दो बीघा जमीन के लिए रंजिश चली आ रही है। इस जमीन पर दोनों ही पक्ष अपना अपना दावा करते आ रहे हैं। वर्ष 2012 में भी इस जमीन को लेकर विवाद और खुनी संघर्ष हो चुका है, जिसमें सुभाष और उसके पक्ष के एक अन्य की हत्या की जा चुकी है। इसी को लेकर रंजिश चली आ रही है। सुभाष पक्ष तभी से इस रंजिश का बदला लेने की फिराक में था।

पहले लाठियां चली फिर तंमचे

पहले लाठियां चली फिर तंमचे

मंगलवार की सुबह करीब आठ बजे इस दो बीघा जमीन को लेकर दोनों पक्ष आमने सामने आ गए। देखते ही देखते दोनों पक्षों में पहले लाठियां चली और इसे बाद तमंचे बाहर निकल आए। इस संघर्ष में महावीर पक्ष के महावीर और सुनील की मौत हो गई, जबकि चार अन्य घायल हो गए। जानकारी मिलते ही पुलिस के होश फाख्ता हो गए। गांव में पहुंची पुलिस ने मृतकों के शवों को पीएम और घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। गांव में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
another firing incident in Saharanpur, 2 killed, four injured
Please Wait while comments are loading...