सपा, कांग्रेस और आरएलडी के बीच गठबंधन का जल्द ऐलान, सीटों पर बात फंसी

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। यूपी चुनाव के नजदीक आने के साथ ही प्रदेश में गठबंधन की कोशिशें तेज हो गई है। समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और आरएलडी के गठबंधन को लेकर संभावना बनती नजर आ रही है। सूत्रों के अनुसार इन तीनों दलों में बात चल रही है, माना जा रहा है कि तीनों दलों के बीच आपसी सहमति बन गई है और जल्द ही इसका ऐलान हो सकता है। हालांकि तीनों पार्टियों के बीच सीटों के बंटवारें पर अंतिम फैसला होना अभी बाकी है।

rahul akhilesh

सीटों के बंटवारे पर बात उलझी

सीटों के बंटवारें पर तीनों ही दलों के बीच अभी भी मतभेद बना हुआ है, एक तरफ जहां समाजवादी पार्टी उन सभी सीटों को अपने पास रखना चाहती है जहां से उसने 2012 में चुनाव जीता था जबकि कांग्रेस प्रदेश में 150 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारना चाहती है, जिसके लिए सपा तैयार नहीं है। सूत्रों के अनुसार सपा कांग्रेस और आरएलडी दोनों को मिलाकर 100 सीटें देना चाहती है और इन दोनों को आपस में इन सीटों के बंटवारे का संदेश भी दे चुकी है।

इसे भी पढ़े- परिवार के विवाद पर बचकर समय निकाल रहे हैं अखिलेश यादव

आरएलडी का बातचीत से इनकार

हालांकि आरएलडी के सूत्रों का कहना है कि अजीत सिंह की सपा और कांग्रेस से 5 दिसंबर के बाद गठबंधन को लेकर किसी भी तरह की बात नहीं हुई है। आपको बता दें कि अमर सिंह पिछले दो दिनों से काफी सक्रिय हो गए हैं और उन्होंने मुलायम सिंह यादव व शिवपाल सिंह यादव से मुलाकात की है। हालांकि उन्होंने कहा कि वह बतौर पार्टी के महासचिव शिवपाल से मिलने आए थे, गठबंधन के लिए वह बहुत ही छोटे नेता हैं।

सक्रिय हुए अमर सिंह

एक तरफ जहां अमर सिंह ने अपनी सक्रियता बढ़ाई है तो दूसरी तरफ अखिलेश यादव ने भी अपने आवास पर तमाम विधायकों, सपा नेताओं व पार्टी के अन्य पदाधिकारियों से मुलाकात की है। उन्होंने इन तमाम नेताओं को आगामी चुनाव के मद्देनजर किस तरह से प्रचार किया जाए इसके टिप्स दे हैं। पार्टी में कुछ दिनों पहले मचे घमासान के बाद शिवपाल और अखिलेश खेमा अलग-अलग अपनी योजनाएं बना रहा है। ऐसे में देखने वाली बात यह है कि गठबंधन के बाद दोनों ही खेमे किस तरह से पार्टी का प्रचार प्रसार करते हैं।

इसे भी पढ़े- नरेंद्र मोदी के मन के बात के बाद यूपी चुनाव में भाजपा लाई मन की पेटी

पहले मांगी थी 125 सीटें

आपको बता दें कि इससे पहले कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने सपा से 125 सीटें मांगी थी, जिससे सपा ने इनकार कर दिया था, सपा प्रदेश में अपने 303 उम्मीदवार उतारना चाहती है। जबकि कांग्रेस को 78 व आरएलडी को 22 सीटें देना चाहती है। सीटों के बंटवारे को लेकर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने जीते हुए विधायकों के साथ बैठक भी की है, मुमकिन है कि अगले कुछ दिनों में सीटों पर अंतिम बात होने के बाद गठबंधन का ऐलान किया जा सकता है।

राजब्बबर बोले, कोई गठबंधन नहीं

वहीं कांग्रेस नेता राज बब्बर ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि किसी भी तरह का गठबंधन नहीं हो रहा है, यह महज एक अफवाह है, इसके पीछे विपक्ष काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि गठबंधन को लेकर किसी भी बड़े नेता से मुलाकात नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की प्रदेश में सफल रैलियों के बाद इस तरह की अपवाह फैलाई जा रही है, उन्होंने अपील की है कि इन अफवाहों को दरकिनार कर 2-17 में कांग्रेस की सरकार बनाने में लोग जुट जाएं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Alliance soon to be made public in Uttar Pradesh among SP congress and RLD. Final talks are on over seat distribution.
Please Wait while comments are loading...