इलाहाबाद: राजा भइया के इलाके में भाजपा प्रत्याशी को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, प्रचार न करने की दी धमकी

Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। राजा भइया के इलाके में राजा के खास विनोद सरोज के विरुद्ध चुनाव प्रचार प्रसार करना भाजपाईयों को महंगा पड़ गया। प्रतापगढ़ के बाबागंज विधानसभा क्षेत्र में प्रचार कर रहे भाजपा प्रत्याशी को दौड़ा दौड़ाकर पीटा गया। मामले में राजा भइया और उनके समर्थकों के विरुद्ध भाजपा प्रत्याशी ने तहरीर दी है। हालांकि मुकदमा नहीं दर्ज किया जा सका। मालूम हो कि भाजपा ने बाबागंज विधानसभा से पवन गौतम को चुनाव मैदान में उतारा है। जबकि इसी विधानसभा सीट से राजा भइया के नजदीकी विधायक विनोद सरोज दुबारा मैदान में हैं। भाजपा प्रत्याशी इसी इलाके में प्रचार कर रहे थे कि उनपर यह हमला हुआ।

Read more: इन सीटों पर सपा-कांग्रेस प्रत्याशियों ने आमने-सामने ठोकी ताल

इलाहाबाद: राजा भइया के इलाके में भाजपा प्रत्याशी को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, प्रचार न करने की दी धमकी

राजा को करनी थी जनसभा

बाबागंज के जिस इलाके में भाजपा प्रत्याशी पवन गौतम प्रचार कर रहे थे। वहां राजा के खास विनोद सरोज विधायकी का चुनाव लड़ रहे हैं। घटना के कुछ देर बाद ही विनोद के समर्थन में वहां राजा की सभा होनी थी। सभा के पहले उधर से विनोद भी गुजरे तो मामला बिगड़ गया। हालांकि राजा न सिर्फ जनसभा में आए बल्कि उन्हें सुनने के लिए भारी भीड़ भी जुटी। राजा भैया ने सभा को संबोधित कर विनोद को चुनाव जिताने की अपील की।

सुबह करीब 10 बजे का वक्त रहा होगा जब पवन गौतम बाबागंज विधानसभा अंतर्गत बदरुआ और कोहरवटी गांव में समर्थकों संग प्रचार पर पहुंचे। भाजपाईयों को देखकर कुछ लोग पहुंचे और बोले तुम्हें पता नहीं तुम किसके इलाके में हो। जितनी जल्दी हो इस इलाके से दूर हो जाओ। वाद-विवाद बढ़ा तो दोनों पक्षों में हाथापाई हो गई। तब तक हमलावरों की संख्या बढ़ गई और पवन और उनके समर्थकों को गांव के अंदर दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया।

प्रतापगढ़ में भाजपा प्रत्याशी पर हमला, राजा भइया पर आरोप, ग्राम प्रधान भी नामजद

OneIndia ने बाबागंज विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी पवन गौतम से बात की तो उन्होंने बताया कि करीब 10:30 बजे वह बदरुआ गांव पहुंचे थे। जहां वो प्रचार कर रहे थे कि ग्राम प्रधान रमेश तिवारी और कुछ अन्य लोग वहां पहुंच गए। उन्होंने प्रचार बंद कर चले जाने को कहा। उन लोगों ने कहा कि यहां राजा भइया की सभा होनी है, यहां प्रचार मत करो। इसका विरोध करने पर राजा भइया और अक्षय प्रताप के प्रधान समेत अन्य समर्थकों ने हमला कर दिया। पवन ने जिला प्रशासन पर भी राजा भइया से मिलीभगत का आरोप लगाया। कहा कि सुरक्षा मांगने के बावजूद उन्हें सुरक्षा नहीं उपलब्ध कराई गई।

Read more: यूपी विधानसभा चुनाव 2017: 11 फरवरी को पहले चरण का मतदान, दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Allahabad: In Raja bhaiya assembly seat bjp candidate beaten by Raja supporter
Please Wait while comments are loading...