एक खौफ की वजह से इलाहाबाद में सभी सीटों पर नामांकन करवाने नहीं आए प्रत्याशी!

Subscribe to Oneindia Hindi

इलाहाबाद। यूपी विधानसभा चुनाव के तहत चौथे चरण में 23 फरवरी को होने वाले अहम मुकाबले के लिये कागजी प्रक्रिया का आगाज हुआ। इलाहाबाद की सभी 12 विधानसभा सीटों के लिये नामांकन का सिलसिला सोमवार से ही शुरू हो चुका है। लेकिन 141 पर्चे बंटने के बावजूद मात्र एक नामांकन हुआ। इसकी सबसे अहम वजह पाचक का खौफ बताया जा रहा है। गौरतलब है कि इस बार निर्दलीय प्रत्याशियों की भरमार है। पहले ही दिन इनकी संख्या 100 को पार कर गई है। वहीं, विधायकी का चुनाव लड़ने वाले लोग बड़े-बड़े बाबा, तांत्रिक व मौलाना की शरण में होकर पहुंचे थे। पहले दिन भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (एम-एल) के प्रत्याशी पंचमलाल ने कोरांव से पर्चा दाखिल किया है। ये भी पढ़ें: चुनाव प्रचार में बाहुबलियों के साथ बहुएं भी मैदान में

एक खौफ की वजह से इलाहाबाद में सभी सीटों पर नामांकन करवाने नहीं आए प्रत्याशी!

बता दें कि शास्त्रों के अनुसार पाचक मे कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता, क्योंकि उसमें नुकसान की संभावना होती है। ऐसे में पाचक का खौफ देखते हुए किसी बड़े दल व चर्चित प्रत्याशी ने नामांकन नहीं करवाया। वहीं, सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए नामांकन प्रक्रिया के लिये कलेक्ट्रेट व सदर तहसील को फौजी छावनी की तरह सुरक्षा घेरे में तब्दील कर दिया गया है। 

किसने लिया नामांकन पत्र
इलाहाबाद की सभी 12 विधानसभा सीट से काफी प्रत्याशी कलेक्ट्रेट ऑफिस पहुंचे और नामांकन पत्र लिया। शहर पश्चिमी से सर्वाधिक 27 लोग व कोरांव से सबसे कम चार लोगों ने नामांकन पत्र लिये। प्रमुख लोगों में शहर पश्चिमी से भाजपा के सिद्धार्थ नाथ सिंह, लोकदल से रामशंकर चौधरी समेत 25 ने। फूलपुर से सपा प्रत्याशी मंसूर आलम, बसपा से मो. मशरूर, अनिल सिंह, कुलदीप पांडेय समेत 26 ने। शहर उत्तरी से अमित श्रीवास्तव बसपा व अन्य 16, शहर दक्षिणी से सपा विधायक परवेज टंकी समेत 12, मेजा से नीलम करवरिया, भाजपा,रामसेवक सिंह, सपा, एसके मिश्रा बसपा के अलावा 8 नेताओं ने नामांकन पत्र लिये। प्रतापपुर से पूर्व विधायक मो. मुज्तबा सिद्दीकी बसपा समेत 10, बारा से भाजपा प्रत्याशी डॉ. अजय भारतीय व 8 अन्य, हंडिया से हातिम लाल बिंद बसपा, राकेश धर त्रिपाठी भाजपा-अकावी दल गठबंधन व अन्य 5 ने नामांकन पत्र लिए।

वहीं, करछना से सपा के कद्दावर नेता रेवती रमण के बेटे और सपा प्रत्याशी उज्ज्वल रमण सिंह साथ ही विधायक दीपक पटेल ने नामांकन पत्र लिया। सोराव से कांग्रेस गठबंधन में सीट जाने के बाद फिर टिकट पाने वाले सपा प्रत्याशी सत्यवीर मुन्ना व बसपा से गीता पासी समेत 6। फाफामऊ से अंसार अहमद सपा, भाजपा से विक्रमादित्य मौर्य, लोकदल से चंद्रिका प्रसाद व अन्य दो। कोराव से 4 लोगों ने नामांकन पत्र हासिल किया।

इस विधानसभा चुनाव में कोट कटवा प्रत्याशियों की बढ़ती संख्या ने बड़े दलों की चिंता बढा दी है। अधिकांश ऐसे लोग भी चुनाव लड़ेंगे जिनकी निश्चित तौर पर जमानत जब्त होगी। जबकि विभिन्न दलों से टिकट के दावेदार भी टिकट न मिलने पर नाराज होकर चुनाव मैदान में उतर रहे हैं। जिस तरह से पहले दिन धड़ाधड़ फार्म निर्दलीय प्रत्याशी ने लिये उससे यह आंकड़ा आज दो सौ पहुंच जायेगा।

शिकायत के लिए हेल्प लाइन नंबर
विधानसभा निर्वाचन के लिए शिकायत कंट्रोल रूम भी बनाया गया है । कलेक्ट्रेट स्थित जन मिलन केंद्र में हेल्प लाइन नंबर 0532-2250012 पर आप शिकायत कर सकते हैं। निर्वाचन संबंधी सभी शिकायतें यहां 24 घंटे किसी भी समय की जा सकती है। ये भी पढ़ें: VIDEO: बसपा के पूर्व मंत्री ने RSS पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- ये कर लेंगे हिंदुस्तान पर कब्जा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
allahabad candidate nomination for up election in uttar pradesh.
Please Wait while comments are loading...