बहराइच: बड़ी मात्रा में पानी में आग लगाने वाला घातक केमिकल बरामद, केस दर्ज

लखीमपुर की ओर से आ रहे मैजिक वाहन को रोक कर तलाशी ली गई। इस वाहन में बड़े-बड़े जरीकेन में रसायन भरे हुए थे।

Subscribe to Oneindia Hindi

बहराइचलखीमपुर से लाई जा रही तेजाब और अन्य रसायनों की बड़ी खेप उड़ाका दल ने बहराइच-लखीमपुर की सीमा पर कुड़वा वन बैरियर के निकट वाहनों की चेकिंग के दौरान बरामद की। लगभग 400 लीटर तेजाब बरामद हुआ है। बरामद रसायनों के साथ वाहन को भी सीज कर दो लोगों को गिरफ्तार किया गया। हलांकि पकड़े गए लोगों को बाद में मुचलके पर छोड़ दिया गया। Read Also: यूपी इलेक्शन में इस्तेमाल के लिए बना रहे थे हथियार, फैक्ट्री पकड़ी
 

बहराइच: बड़ी मात्रा में पानी में आग लगाने वाला घातक केमिकल बरामद, केस दर्ज

आचार संहिता अनुपालन के लिए मोतीपुर तहसील क्षेत्र में उपजिलाधिकारी कुंवर विनय मौर्या ने मजिस्टे्रट ओमप्रकाश की अगुवाई में गठित उड़ाका दल को नानपारा-लखीमपुर मार्ग पर वाहनों की चेकिंग के निर्देश दिए थे। मजिस्ट्रेट ओमप्रकाश, उड़ाका दल प्रभारी उपनिरीक्षक सुरेश यादव, राघवेंद्र सिंह, सोहन प्रसाद, अमरजीत कुमार के साथ कुड़वा वन बैरियर के निकट वाहनों को रोक कर सोमवार देर रात चेकिंग कर रहे थे।

बहराइच: बड़ी मात्रा में पानी में आग लगाने वाला घातक केमिकल बरामद, केस दर्ज
 

इसी दौरान लखीमपुर की ओर से आ रहे मैजिक वाहन को रोक कर तलाशी ली गई। इस वाहन में बड़े-बड़े जरीकेन में रसायन भरे हुए थे। जांच के दौरान पता चला कि १५ जरीकेन में सल्यफ्यूरिक एसिड, 120 पीस सिगनेटरी क्लीनर, 85 पीस केंपल चेजरी बरामद हुई। वाहन चालक आनंद दीक्षित पुत्र शिव गोविंद निवासी शिव कालोनी कोतवाली नगर व खलासी शुभम पुत्र रामदुलारे बौथा फरधान लखीमपुर को हिरासत में लिया गया।

यह सभी सिर्फ इतना बता सके कि वाहन को बहराइच ले जाना था। लेकिन वाहन में लदे रसायन को किसके सुपुर्द करना था, इसकी जानकारी नहीं हो सकी, न ही कोई कागज दिखा सके। जिसके चलते रसायन और वाहन को सीज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। थानाध्यक्ष मोतीपुर रामअवतार यादव ने बताया कि पूछताछ के बाद चालक और क्लीनर को मुचलके पर छोड़ा गया है। जबकि बरामद रसायन की जांच शुरू की गई है। केस दर्ज कर लिया गया है।

सल्फ्यूरिक एसिड होता है शुद्ध तेजाब

15 जरीकेन से लगभग 400 लीटर सल्फ्यूरिक एसिड बरामद हुआ है। किसान पीजी कालेज के रसायन विभाग के प्रवक्ता डॉ. विवेक दीक्षित का कहना है कि सल्फ्यूरिक एसिड शुद्ध तेजाब होता है। इसे अगर किसी के शरीर पर छोड़ दिया जाए तो शरीर पूरी तरह जल जाएगा। पानी मिलाने पर तेज आग निकलेगी। रसायन काफी घातक होता है। Read Also: यूपी चुनाव 2017: रायबरेली में चेकिंग के दौरान 25 लाख रुपए बरामद

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
UP Police recovered heavy amount of chemicals and acid in Lakhimpur area.
Please Wait while comments are loading...