चौरसिया पर बरसे राकेश गुप्ता, कहा- ओलंपिक के 4 महीने बाद शिकायत क्यों?

भारतीय गोल्फर एसएसपी चौरसिया ने रियो ओलिंपिक की तैयारियों के लिये आवंटित की गयी 30 लाख रुपये की पूरी राशि अभी तक नहीं मिलने के लिये भारतीय ओलंपिक संघ को लताडा़ है।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारतीय गोल्फर एसएसपी चौरसिया ने इंडियन ओलंपिक संघ (आइओए) पर आरोप लगाया है कि रियो ओलंपिक 2016 के दौरान उनके साथ नौकर की तरह बर्ताव किया गया था, जिस पर अब तीखा वार किया है रियो में भारत के शेफ डी मिशन रहे राकेश गुप्ता ने।

Pic: हरभजन और गीता बसरा पहली बार दिखे बेटी के साथ

Why SSP Chawrasia is complaining four months after Rio Games: Rakesh Gupta

चौरसिया के सारे आरोपों को बकवास बताते हुए राकेश गुप्ता ने सवाल किया है कि अगर भारतीय गोल्फर को इतनी परेशानी थीं तो वो पिछले चार महीने से चुप क्यों थे? आखिर वो इतना इंतजार किस लिए कर रहे थे, उन्हें तो तुरंत इस बारे में बात करनी चाहिए थी।

फोर्ब्‍स इंडिया लिस्ट: लोकप्रियता में सबसे आगे हैं विराट कोहली, सलमान-सचिन भी पीछे

गौरतलब है कि चौरसिया ने आरोप लगाया था कि रियो में उनके लिए ट्रॉंसपोर्ट की व्यस्था नहीं थी और उनके साथ नौकरों  जैसा बर्ताव हुआ था। गु्प्ता ने तस्वीर साफ करते हुए कहा कि रियो में खिलाड़ियों के लिये यातायात सुविधा मुहैया कराना स्थानीय आयोजकों की जिम्मेदारी थी।

ICC 'क्रिकेटर ऑफ द ईयर' आर अश्विन के बारे में कुछ खास बातें

अभिनव बिंद्रा से लेकर लिएंडर पेस तक सभी भारतीय खिलाड़ियों को स्थानीय आयोजक ही खेलगांव लाये थे। वहां पर इंडियन खिलाड़ी टुकड़ों में आए थे। ऐसे में सबको स्पेशली रिसीव करना आसान नहीं है।

चौरसिया बिना सिर-पैर की बातें कर रहे हैं

चौरसिया के बारे में राकेश गुप्ता ने कहा कि मैं उनके ओलंपिक के दौरान हर रोज मिलता था और उस वक्त उन्होंने मुझसे कोई शिकायत नहीं की। यहां तक कि जब हम रियो से वापस आ रहे थे तो भी उन्होंने मुझसे कुछ नहीं कहा और अब चार महीने बाद वो बिना सिर-पैर की बातें कर रहे हैं तो इस पर क्या कहा जा सकता है।

गोल्फर एसएसपी चौरसिया ने आईओए पर संगीन आरोप लगाए हैं

यहां आपको ये भी बताते चले कि शीर्ष भारतीय गोल्फर एसएसपी चौरसिया ने रियो ओलिंपिक की तैयारियों के लिए आवंटित की गई 30 लाख रुपए की पूरी राशि अभी तक नहीं मिलने के लिए भारतीय ओलिंपिक संघ (आईओए) और खेल मंत्रालय पर गुस्सा उतारा था और उसके बाद उन्होंने ये सारी संगीन आरोप लगाए हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A day after SSP Chawrasia lashed out at the IOA alleging shoddy treatment at the Olympics, India’s Chef-de-mission in Rio, Rakesh Gupta, said SSP should have brought the issues to his notice during the Games instead of complaining four months later.
Please Wait while comments are loading...