17 साल की मुस्लिम लड़की ने बनाया रिकॉर्ड, हिजाब पहन कर उतरी बॉक्सिंग रिंग में

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

आस्ट्रेलिया। सिडनी की रहने वाली रियान अलमेदीन को एक साल पहले उसके हिजाब पहनने की वजह बॉक्सिंग रिंग में उतरने से रोक दिया गया था लेकिन जब रियान को इस साल खेलने का मौका मिला तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

boxer

अपना रिकॉर्ड तुड़वाने के लिए अश्विन ने पाक बॉलर को दी शुभकामनाएं

रियान अलमेदीन के लिए बॉक्सिंग रिंग में उतरना किसी ख्वाब जैसा था, पिछले साल उसने इसके लिए कई महीन तक कड़ी मेहनत की थी। बीते साल रियान का दिल तब टूट गया जब उन्हे रिंग में उतरने के लिए कुछ शर्तों वाला खत मिला।

बॉक्सिंग प्रतियोगिता के अधिकारियों की ओर से रियान को कहा गया कि अगर आप हिजाब पहनकर खेलना चाहती हैं तो हम आपको इसके लिए इजाजत नहीं दे सकते। इसकी वजह रियान को हिजाब का असुरक्षित होना बताया गया।

रियान को उनकी घुटनों से नीची लेगी पहनने की इजाजत भी नहीं मिली। रियान रिंग में नहीं उतर सकीं लेकिन उन्होंने अपनी प्रैक्टिस जारी राखी। रियान की मेहनत रंग लाई और इस साल उन्हें रिंग में उतरने की इजाजत मिल गई।

जियो के बाद अब एयरटेल देगा 3 महीने तक फ्री अनलिमिडेट इंटरनेट

टीवी पर बॉक्सिंग देखी तो इससे मुहब्बत हो गई

रियान पिछले हफ्ते हिजाब पहन कर खेलने वाली एनएसडब्लयू की पही शौकिया बॉक्सर बनीं। रियान ने एक प्रदर्शनी मैच खेला इसलिए इसकी कोई विजेता नहीं बनी लेकिन इसे 600 से ज्यादा दर्शकों ने देखा।

अखिलेश यादव नहीं है सपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार

रियान ने मैच के बाद कहा कि ये उनके लिए काफी रोमांचक और राहत देने वाला है। उन्होंने कहा कि मैं हिजाब पहन कर रिंग में उतरी और मुझे कोई चोट नहीं आई इसलिए अब मुझे हिजाब पहनकर दुनियाभर में खेलने की इजाजत मिलनी चाहिए।

रियान एक जिम में पार्ट टाइम काम करती हैं। उनका कहना है कि कुछ साल पहले टीवी पर बॉक्सिंग देखकर उन्हें इस खेल से प्यार हो गया। रियान कहती हैं कि उनका परिवार उनके सपने के लिए बहुत सहयोग करता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Teen age Muslim boxer from Australia wins right to fight wearing hijab
Please Wait while comments are loading...