हार के बाद बोले बिंद्रा..मेरा शूटिंग करियर यहींं खत्म होता है..

Subscribe to Oneindia Hindi

रियो डी जेनेरियो। सोमवार को भारत के लिए गोल्ड मेडल जीत चुके निशानेबाज अभिनव बिंद्रा जीतते-जीतते हार गये। बिंद्रा रियो ओलम्पिक की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में चौथे स्थान पर रहे और पदक से चूक गए।

रियो ओलंपिक 2016: जानिए गुडविल एंबेसडर अभिनव बिंद्रा के बारे में खास बातें

Rio Olympics: My best was not enough, says Abhinav Bindra after missing bronze

इस हार के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए बिंद्रा ने कहा कि मेरा निशानेबाजी करियर यहीं खत्म होता है, यहां तक कि शौकिया निशानेबाजी भी यहीं से खत्म होती है। बिंद्रा ने कहा कि मुझे नहीं पता कि मैं आगे क्या करने जा रहा हूं लेकिन इतना तय है कि अब मैं शूटिंग नहीं करूंगा।

बिंद्रा वैसे अपने आपको काफी सहज रखने की कोशिश कर रहे थे, बिंद्रा ने कहा कि हार या जीत तो बाद की बात है लेकिन हां मुझे इस बात का सकून है कि मैंने अपना बेस्ट दिया। मैं बस अपने साथी युवा खिलाड़ियों से यही कहना चाहूंगा कि वो कठिन मेहनत करें, दृढ़ता बनाए रखें और सफलता हासिल करें।

हार के बाद बोले बिंद्रा..मेरा शूटिंग करियर यही खत्म होता है..

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
My best was not enough, says Abhinav Bindra after missing bronze at Rio Olympics 2016.
Please Wait while comments are loading...