अगरतला की सड़कें खराब इसलिए BMW नहीं नकद लेंगी दीपा

Subscribe to Oneindia Hindi

अगरतलारियो ओलंपिक में सफलता का नया पैमाना तय करने वाली जिमनास्ट दीपा करमाकर भेंट में मिली बीएमडब्ल्यू कार को अगरतला में नहीं रख सकती हैं क्योंकि वहां की सड़कें इतनी महंगी कार के लिए सही नहीं है और उसके अलावा दीपा का कहना है कि वो इतनी महंगी कार को मेंटन नहीं कर सकती हैं इसी वजह से वो BMW को अपने पास रखने में डर रही हैं।

अगर ये नहीं होते तो शायद सचिन- विराट और सिंधु भी नहीं होते..

लेकिन इसका मतलब ये ना निकाला जाए कि मैं अपने पुरस्कार को लौटा रही हूं और किसी का अपमान कर रही हूं, बल्कि दीपा ने मीडिया में आई उन खबरों का खंडन किया जिसमें कहा जा रहा है कि वह भेंट में मिली कार चामुण्डेश्वरनाथ को लौटाना चाहती हैं।

साक्षी धोनी के खिलाफ FIR, करोड़ोंं की धोखाधड़ी का आरोप

सारे संदेहों को दूर करते हुए दीपा ने कहा कि त्रिपुरा में बीएमडब्ल्यू का न तो कोई शोरुम है और न ही कोई सर्विस सेंटर। अगर कार चलाते समय इसमें कोई गड़बड़ी हो जाती है तो मैं उसका मरम्मत कैसे करवाऊंगी?

कार के बदले में नकद की बात

मेरे कोच बिशेश्वर नंदी ने चामुण्डेश्वनाथ से इन सब बातों पर चर्चा की। उन्होंने मुझे भेंट की गई कार की कीमत के बराबर धनराशि मेरे बैंक खाते में जमा करवाने पर सहमति व्यक्त की है। वह हमें इस बीएमडब्ल्यू कार के बदले जो भी राशि भेंट करेंगे हमें खुशी होगी।

कौन था 'जटायु', पीएम मोदी ने क्यों दी उसके जैसे बनने की सलाह?

मालूम हो कि रियो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन करने वाली जिमनास्ट दीपा करमाकर, सिल्वर गर्ल पीवी सिंधु और रेसलर साक्षी मलिक और सिंधु के कोच पुलेला गोपीचंद को हैदराबाद जिला बैडमिंटन संगठन के अध्यक्ष वी. चामुंडेश्वरनाथ बीएमडब्ल्यू कार तोहफे में दी थी। इन सभी को मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने कार की चाबी गिफ्ट की थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Ace gymnast Dipa Karmakar, who narrowly missed out on a bronze medal in the women's vault event at the Rio Olympics, has been placed in a tricky situation over a BMW car presented to her by the Hyderabad District Badminton Association.
Please Wait while comments are loading...