योगराज सिंह ने फिर कसा धोनी पर तंज, पहले भी की थी घमंडी रावण से तुलना

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। एक बार फिर से युवराज सिंह के पिता योगराज सिंह ने क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी पर निशाना साधा है। स्पोर्ट्सकीड़ा वेबसाइट से बात करते हुए डैडी योगराज ने वापस दोहराया है कि धोनी ने राजनीति के जरिए युवराज सिंह को टीम से वापस निकलवाया था।

युवी की वापसी से खुश डैडी योगराज ने फिर उगला धोनी के खिलाफ जहर

योगराज ने कहा कि मैं खुद इंडिया के लिए खेला हूं इसलिए जानता हूं कि वहां जमकर राजनीति होती है, पिछले साल ही मई में मैंने युवी से कहा था कि टीम इंडिया में कोई तुम्हारा समर्थन नहीं करेगा। अपने प्रदर्शन पर ध्यान रखो और तुम ये करोगे, तुम्हें मौका तभी मिलेगा जब धोनी कप्तानी से रिटायर होंगे, देखिए आज ये बात सच हो गई।

उम्मीद करता हूं धोनी वाली राजनीति कोहली नहीं करेंगे

धोनी की आलोचना करते हुए योगराज ने ये भी कहा कि उन्मीद करता हूं विराट कोहली अब धोनी वाली गलती नहीं दोहराएंगे, युवी में अभी काफी क्रिकेट बाकी है और बल्ले के साथ-साथ उसकी बॉलिंग में भी दम है।

योगराज सिंह ने धोनी की तुलना रावण से की थी

आपको बता दें कि करीब दो साल पहले एक टीवी इंटरव्यू में योगराज सिंह ने धोनी की तुलना रावण से की थी। योगराज ने कहा था कि धोनी में रावण की तरह अहंकार भर गया है, जिस तरह एक दिन रावण का अहंकार मिट गया था उसी तरह एक दिन धोनी के साथ भी ऐसा ही होगा।

लोग सही हैं और धोनी गलत

उन्होंने कहा कि जब भी कोई क्रिकेटर उनसे धोनी की शिकायत करता था तो मुझे लगता था कि लोग उनसे जलते हैं लेकिन अब मुझे महसूस होता है कि लोग सही हैं और धोनी गलत इसलिए युवराज के साथ अन्याय करने वाले धोनी के लिए मैं कहता हूं वो एक दिन कंगाल हो जाएंगे और भीख मांगने पर मजबूर होंगे।

युवी की तीन साल बाद टीम में वापसी

गौरतलब है कि युवराज सिंह ने भारतीय टीम के लिए अपना अंतिम वन-डे मैच 2013 में खेला था और उनकी तीन वर्ष बाद  भारतीय टीम में वापसी हुई है। 15 जनवरी को भारत और इंग्लैंड के बीच पहला वनडे खेला जाना है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Yuvraj's father Yograj Singh compares MS Dhoni with Raavan. He played only a Test for India, had compared Dhoni with Raavan after India had beaten Pakistan in the World Cup 2015.
Please Wait while comments are loading...