बड़ा खुलासा : धोनी और गांगुली में युवराज सिंह किसे मानते हैं बेहतर कप्तान, जानिए यहां

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। हम जब कभी भारतीय ​क्रिकेट इतिहास के सबसे सफल कप्तान की बात करते हैं तो सबसे पहले जो दो नाम जुबान पर आते हैं, वे हैं महेंद्र सिंह धोनी और सौरव गांगुली। धोनी को सबसे ज्यादा जीत दिलाने का श्रेय जाता है तो वहीं लोग गांगुली को भारतीय टीम को संगठित करने के लिए जानते हैं।

बड़ा खुलासा : धोनी और गांगुली में युवराज सिंह किसे मानते हैं बेहतर कप्तान, जानिए यहां

PICS: धोनी की पत्नी साक्षी संग यह रोमांटिक तस्वीर तेजी से हो रही है वायरल, जानिए वजह

इन दोनों नामों को सबसे सफलतम कप्तानों के लिए चुना जा सकता है लेकिन इन दोनों की तुलना कर पाना लगभग नामुमकिन सा है। ऐसा इसलिए क्योंकि दोनों की अपनी यूनीक क्वॉलिटी है।

बेहतर कप्तान के बारे में खुलासा

यूं तो लोग अरसे से बेस्ट इंडियन क्रिकेट कैप्टन को लेकर बहस करते आए हैं और इस अंतहीन बहस में लोग अपने-अपने हिसाब से बेस्ट कैप्टन मानते रहे हैं। लेकिन अब युवराज सिंह भी इस बहस का हिस्सा बन गए हैं। दरअसल, उन्होंने धोनी और सौरव गांगुली में से बेहतर कप्तान के बारे में खुलासा किया।

विराट कोहली के पास दिग्गज कप्तानों को पछाड़ने का मौका

धोनी ने रची युवराज के खिलाफ साजिश!

आईसीसी विश्वकप 2011 के प्लेयर आॅफ द टूर्नामेंट रहे युवराज सिंह ने धोनी के नेतृत्व में शानदार प्रदर्शन किया था। इससे पहले 2007 टी20 आईसीसी विश्वकप में भी युवराज सिंह ने अहम योगदान दिया था। जब 2014 आईसीसी विश्व टी20 विश्वकप से ठीक पहले धोनी को कप्तान बनाया गया तब खबरें आईं कि धोनी ने युवराज के नाम को पीछे करने के लिए साजिश रची है।

धोनी-गांगुली में युवराज सिंह इन्हें मानते हैं बेहतर कप्तान

WOW ! इस शानदार भारतीय महिला जिमनास्ट के लिए एक साथ आईं दो खुशखबरी, जानिए

धोनी से कभी खराब नहीं किए रिश्ते

इसके बाद विश्वकप 2015 में जब युवराज सिंह का नाम नहीं था तो उनके पिता योगराज सिंह ने धोनी की तुलना रावण से की थी। हालांकि, युवराज सिंह ने निजी स्तर पर धोनी से कभी रिश्ते खराब नहीं किए और दोनों ने मिलकर हर बार ड्रेसिंग रूम के भीतर हैप्पी मोमेंट शेयर किए।

धोनी-युवराज की दोस्ती

लेकिन वह गांगुली ही थे जिन्होंने युवराज को तराशा और चंडीगढ़ में पहली बार इंटरनेशनल क्रिकेट मैच उनके नेतृत्व में खेला। हालां​कि, देखा जाए तो धोनी और गांगुली दोनों ने ही युवराज की जरूरत के वक्त मदद की है। धोनी और युवराज हमउम्र होने की वजह से भी ​काफी मिलकर रहे हैं।

युवराज सिंह ने दिया स्पष्ट जवाब

एक तरफ जहां ज्यादातर क्रिकेटर बेस्ट कैप्टन के सवाल पर कूटनीतिक जवाब देते हैं, वहीं युवराज सिंह ने हाल ही एक इंटरव्यू में इस सवाल का स्पष्ट जवाब दिया। उन्होंने जवाब तर्कों के साथ दिया।

हिंदी के वो 14 शब्द जो हमारे जीवन में रखते हैं खास महत्व

ये हैं युवराज के लिए बेस्ट कैप्टन

एक एफएम चैनल से बातचीत के दौरान युवराज सिंह ने कहा, 'मैंने अपने क्रिकेट कॅरियर की शुरुआत सौरव गांगुली के नेतृत्व में की और मेरे हिसाब से वही ऐसे एकमात्र भारतीय कप्तान रहे हैं जिन्होंने भारतीय टीम के सबसे बड़े सितारों को एकजुट किया। इनमें मैं, आशीष नेहरा, वीरेंद्र सहवाग, जहीर खान और हरभजन सिंह आदि शामिल हैं। इसलिए मेरे हिसाब से सौरव गांगुली ही बेस्ट कप्तान रहे हैं।'

धोनी ने गांगुली के नेतृत्व में की शुरुआत

धोनी ने भी सौरव गांगुली की कप्तानी में ही अंतरराष्ट्रीय कॅरियर की शुरुआत की थी। गांगुल केन्या में धोनी की इंडिया ए के लिए खेली गई आतिशी पारी से काफी प्रभावित हुए थे और उसके बाद से धोनी ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

हालांकि, धोनी और गांगुली में से बेस्ट भारतीय कैप्टन कौन रहा है, यह अब भी अंतहीन बहस है। आप किसे मानते हैं बेस्ट कप्तान, कॉमेंट बॉक्स में बताएं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
yuvraj reveals about the best captain of india amongst sourav ganguly and ms dhoni.
Please Wait while comments are loading...