नोटबंदी पर मचे बवाल के बीच वीरू को क्यों याद आए शहीद हनुमनथप्पा?

सहवाग ने टि्वटर पर लिखा कि यदि शहीद हनुमनथप्पा सियाचिन ग्लेशियर में हुए हिमस्खलन मेंं 6 दिन भूखा रहकर मौत को मात दे सकते हैं तो फिर हम क्यों नहीं?

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। ट्विटर पर अपने संवादों से लोगों को पेट पकड़कर हंसने पर मजबूर करने वाले टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने इस बार दिल छू लेने वाली बात कही है।

नोटबंदी के कारण परेशान हैं तो जरूर पढ़ें सहवाग का ये Tweet

Virender Sehwag invokes martyr Hanumanthappa to slam critics on demonetisation

नजफगढ़ के सुल्तान कहे जाने वाले वीरू ने टि्वटर पर लिखा कि यदि शहीद हनुमनथप्पा सियाचिन ग्लेशियर में हुए हिमस्खलन के बाद 35 फीट गहरे बर्फ में दबकर भी 6 दिन तक मौत को मात दे सकते हैं, तो फिर क्या हम अपने मुल्क को बचाने के लिए थोड़ी तकलीफ नहीं सह सकते हैं?

'नज़फ़गढ़ के नवाब' या 'मुल्तान के सुल्तान' क्या हैं सहवाग?

ये बात सहवाग ने नोटबंदी पर मचे सियासी घमासान को ध्यान में रखकर टि्वटर पर लिखी क्योंकि इन दिनों सियासी दल पीएम मोदी और मोदी सरकार के इस कदम की जबरदस्त आलोचना कर रहे हैं। उनका कहना है कि पीएम के इस कदम से काले धन रखने वालों पर नकेल कसी है या नहीं ये तो आने वाला वक्त बताएगा लेकिन इस फैसले से आम आदमी काफी तकलीफ में हैं।

Virender Sehwag invokes martyr Hanumanthappa to slam critics on demonetisation

सहवाग-अश्विन के ट्वीट पर बीवियों ने जड़ा जवाबी 'सिक्सर', हो गई बोलती बंद

यहां आपको ये भी बताते चले कि सियाचिन ग्लैशियर की सोनम चौकी पर 3 फरवरी को हिमस्खलन में 10 सैनिक बर्फ में दब मिले थे जिनमें से 9 सैनिकों के शव निकले थे जबकि सैनिक हनुमनथप्पा टनों बर्फ के नीचे से चमत्कारिक रूप से जिंदा पाए गए थे लेकिन छह दिनों तक मौत से जूझने के बाद दिल्ली के आर्मी रिसर्च एंड रिफरल हॉस्पिटल में उनका निधन हो गया था।

#Uri Terror Attack: बोले सहवाग- वे घुसपैठिये नहीं...आतंकी थे...

इससे पहले भी सहवाग ने पीएम मोदी के नोटबंदी वाले फैसला का समर्थन किया था और काला धन रखने वालों के लिए दिलचस्प ट्वीट भी किया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Former India opener Virender Sehwag on Tuesday joined the league of celebrities pitching their support to Prime Minister Narendra Modi's decision to ban Rs 1000 and 500 notes.
Please Wait while comments are loading...