अनुराग ठाकुर पर चला सुप्रीम कोर्ट का डंडा, बीसीसीआई के अध्यक्ष पद से छुट्टी

लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें लागू ना करने पर देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट ने अनुराग ठाकुर को बड़ा झटका दिया।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को एक बड़ा फैसला सुनाते हुए अनुराग ठाकुर को बीसीसीआई के अध्यक्ष पद से और अजय शिर्के को सचिव पद से हटा दिया। करीब डेढ़ साल से चल रही सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने यह अहम फैसला सुनाया।
जानिए कड़क मिजाज अनुराग ठाकुर के बारे में कुछ दिलचस्प बातें

anurag thakur अनुराग ठाकुर पर चला सुप्रीम कोर्ट का डंडा, बीसीसीआई के अध्यक्ष पद से छुट्टी


अनुराग ठाकुर पर आरोप था कि वह लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें लागू करने की प्रक्रिया में बाधा डाल रहे थे, इसलिए उनके ऊपर यह कार्रवाई की गई। इस मामले में अगली सुनवाई 19 जनवरी को होगी। इस फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी ने कहा कि खेल और क्रिकेट के बेहतरी के लिए यह एक बड़ा फैसला है।

वहीं इस मामले पर जस्टिस लोढ़ा ने कहा कि यह होना था और अब यह हो गया। हमने सुप्रीम कोर्ट में इसस पहले 3 रिपोर्ट जमा की थी लेकिन अभी तक उनका पालन नहीं किया गया। सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि बीसीसीआई और राज्यों के बोर्ड के अधिकारी उनके आदेशों का पालन करने में नाकाम रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब सुप्रीम कोर्ट ने 18 जुलाई को अपने आदेश में कमेटी की सिफारिशों को स्वीकार कर लिया तो बीसीसीआई को भी इन सिफारिशों को लागू करना चाहिए था। जस्टिस लोढ़ा ने कहा कि हर किसी को यह अच्छी तरह समझ लेना चाहिए कि अगर एक बार सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दे दिया तो सभी को उस आदेश का पालन करना चाहिए।

फैसला क्रिकेट के खेल की जीत है: जस्टिस लोढ़ा

जस्टिस लोढ़ा ने कहा कि कानून ने अपना काम किया है। यह फैसला क्रिकेट के खेल की जीत है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश को दूसरे खेल संगठनों को भी एक मिसाल के तौर पर देखना चाहिए। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने केस की सुनवाई के दौरान एमिकस क्यूरी से सवाल किया था कि क्या बीसीसीआई प्रमुख ने लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों को लागू करने के मामले में झूठ बोला है? इसका जवाब अनुराग ठाकुर के खिलाफ है। एमिकस क्यूरी ने कहा था कि अनुराग ठाकुर ने इस मामले में झूठ बोला है। बीसीसीआई प्रमुख अनुराग ठाकुर ने सुप्रीम कोर्ट में दिए गए हलफनामे में कहा था कि उन्होंने शशांक मनोहर से बतौर बीसीसीआई चेयरमैन राय मांगी थी। जबकि एमिकस क्यूरी ने अपने जवाब में बताया कि शशांक मनोहर इस बात से साफ मना कर चुके हैं। ये भी पढ़ें-लोढ़ा कमेटी मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कहा- अनुराग ठाकुर को जाना चाहिए जेल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Supreme Court removes Anurag Thakur from the post of BCCI President.
Please Wait while comments are loading...