सुप्रीम कोर्ट में अनुराग ठाकुर का हलफनामा, कहा- बिना शर्त और साफ तौर पर माफी मांगता हूं

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने देश की सर्वोच्च अदालत में अपना हलफनामा दाखिल किया है, जिसमें उन्होंने बिना शर्त माफी मांगने की बात कही है।

सुप्रीम कोर्ट में अनुराग ठाकुर का हलफनामा

अनुराग की ओर से लिखा गया है कि उनका इरादा कभी भी कोर्ट की मर्यादा की अवहेलना करने का नहीं था और ना ही कभी सुप्रीम कोर्ट के आदेशों को क्षीण करने का उनका उद्देश्य रहा है, लेकिन इसके बावजूद उनकी बातों या इरादों से ऐसा लगा है तो मैं बिना शर्त कोर्ट से माफी मांगता हूं।

बीसीसीआई के अध्यक्ष पोस्ट से हटाए गए अनुराग ठाकुर

आपको बता दें कि दो जनवरी को लोढ़ा समिति की सिफारिशों को लागू करने को लेकर अड़ियल रुख अपनाए जाने की वजह से सुप्रीम कोर्ट ने अनुराग ठाकुर को बीसीसीआई के अध्यक्ष पोस्ट से हटा दिया था।

खास बातें

  • कोर्ट ने अनुराग ठाकुर को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया था जिसमें उनसे पूछा गया था कि आप पर अदालत की अवमानना का मामला क्यों न चलाया जाए?
  • कोर्ट ने ठाकुर को वार्निंग दी थी कि अगर आप दोषी पाए गए तो आपको जेल भी जाना पड़ सकता है।
  • अनुराग ठाकुर पर आरोप था कि उन्होंने आईसीसी के अध्यक्ष शशांक मनोहर सेकहा था कि वह (आईसीसी) ऐसा पत्र जारी करे, जिसमें यह लिखा हो कि अगर लोढ़ा पैनल को इजाजत दी जाती है तो इसे बोर्ड के काम में सरकारी दखलअंदाजी माना जाएगा, जिससे अनुराग ने इंकार किया था।
  • कोर्ट ने सचिव अजय शिर्के को भी उनके पद से हटा दिया था और चार प्रशासक नियुक्त किए थे।
  • सुप्रीम कोर्ट की पिच पर लोढ़ा की गुगली से अनुराग ठाकुर हुए रिटायर्ड हर्ट, जानिए खास बातें
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Former Board of Control for Cricket in India (BCCI) president Anurag Thakur has tendered an unconditional apology in the Supreme Court which had held him guilty of perjury and contempt of court.
Please Wait while comments are loading...