आधुनिक बल्लेबाजी का जनक, आज ही के दिन बनाया था पहला 'शतकों का शतक'

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

जब भी कभी क्रिकेट की बात होती है सबसे पहले जुबां पर सचिन का नाम आता है और क्रिकेट के शतकों की बात होती है तो भी सचिन का ही नाम आता है। सचिन के नाम भी क्रिकेट में 100 शतकों का विश्व रिकॉर्ड है लेकिन आज हम बात कर रहे हैं उस महान खिलाड़ी की जिसने दुनिया में सबसे पहले ये कारनामा अपने नाम किया था। जी हां, सचिन से पहले अब तक 25 खिलाड़ियों ने क्रिकेट में 100 से ज्यादा शतक लगाए हैं। लेकिन इनमें भी सबसे पहले शतक लगाने वाले खिलाड़ी इंग्लैंड के डब्ल्यू जी ग्रेस थे। जी हां आज ही के दिन यानी 17 मई (1895) को डब्ल्यू जी ग्रेस ने सौवां शतक पूरा किया था। प्रथम श्रेणी क्रिकेट में ये कारनामा करने वाले डब्ल्यू जी ग्रेस पहले क्रिकेटर थे।

करिश्माः 60 साल तक खेला क्रिकेट, बनाया विश्व रिकॉर्ड

करिश्माः 60 साल तक खेला क्रिकेट, बनाया विश्व रिकॉर्ड

डब्ल्यू जी ग्रेस ग्लूचेस्टरशायर के लिए क्रिकेट खेलते थे। उन्होंने 100 शतकों का कारनामा 1113वीं पारी में ग्लूचेस्टरशायर के लिए खेलते हुए समरसेट के खिलाफ पूरा किया था। आपको बता दें कि डब्ल्यू जी ग्रेस ने 16 साल की उम्र में खेलना शुरू किया था और 60 साल तक क्रिकेट खेले थे। उनका क्रिकेट करियर 44 साल तक चला। अपने 44 सालों के प्रथम श्रेणी करियर में डब्ल्यू जी ग्रेस ने 1478 पारियों में 126 शतक बनाए।

50000 से ज्यादा रन 2500 से ज्यादा विकेट

50000 से ज्यादा रन 2500 से ज्यादा विकेट

आधुनिक क्रिकेट के जनक कहे जाने वाले डब्ल्यू जी ग्रेस ने अपने करियर के दौरान 39.45 के औसत से 54211 रन बनाए। ग्रेस ने बल्ले से ही नहीं गेंद से भी कहर ढाया था। उन्होंने इपने करियर के दौरान 17.52 के औसत 2809 विकेट भी लिए थे। आपको बता दें कि ग्रेस के अलावा 24 और ऐसे खिलाड़ी रही हैं जिन्होंने प्रथम श्रेमी क्रिकेट में 100 शतक लगाए हैं। सबसे ज्यादा शतक अपने नाम करने का रिकॉर्ड जैक हॉब्स के नाम है। उन्होंने 199 शतक बनाए थे।

कई टीमों के कप्तान भी रहे डब्ल्यू जी ग्रेस

कई टीमों के कप्तान भी रहे डब्ल्यू जी ग्रेस

डब्ल्यू जी ग्रेस का पूरा नाम विलियम गिलबर्ट "डब्ल्यू जी" ग्रेस था। इनका जन्म 18 जुलाई 1848 को इंग्लैंड में हुआ था और मृत्यू 23 अक्टूबर 1915 को इंग्लैंड में ही हुई थी। 1865 से 1908 तक रिकॉर्ड 44 साल तक प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेला। इस दौरान उन्होंने इंग्लैंड, ग्लूचेस्टरशायर, मेरीलेबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी), और कई अन्य टीमों की कप्तानी भी की।

जब तीनों भाई एक साथ खेले थे क्रिकेट, दर्ज हुआ था विश्व रिकॉर्ड

जब तीनों भाई एक साथ खेले थे क्रिकेट, दर्ज हुआ था विश्व रिकॉर्ड

कहा जाता है कि डब्ल्यू जी ग्रेस के परिवार में क्रिकेट काफी प्रसिद्ध था। 1880 के एक टेस्ट मैच में वो अपने बड़े भाई ईएम ग्रेस और छोटे भाई फ्रेड ग्रेस के साथ खेले। यह पहला मामला था जब तीन भाई टेस्ट क्रिकेट में एक साथ खेले थे। आपको बता दें कि डब्ल्यू जी ग्रेस ने 22 अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच भी खेले थे जिसमें ग्रेस ने 32.29 के औसत से 1098 रन बनाए इस दौरान उन्होंने दो शतक भी लगाए थे। साथ ही 26.22 के औसत से कुल 9 विकेट भी लिए थे।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
On this day: W. G. Grace had made the first century of the century
Please Wait while comments are loading...