महेंद्र सिंह धोनी पर लगा दिल्‍ली हाईकोर्ट को गुमराह करने का आरोप, जानिए पूरी वजह

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारत के वनडे और टी20 क्रिकेट फॉर्मेट कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी पर दिल्‍ली हाईकोर्ट को गुमराह करने का आरोप लगा है।

ms dhoni alleged of misleading delhi highcourt says maxx mobile. भारत के वनडे और टी20 क्रिकेट फॉर्मेट कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी पर दिल्‍ली हाईकोर्ट को गुमराह करने का आरोप लगा है।

'बीसीसीआई अधिकारियों को खंभे से बांधकर पिछवाड़े पर मारने चाहिए 100 कोड़े'

यहां जानिए क्‍या था पूरा मामला

महेंद्र सिंह धोनी मैक्‍स मोबाइल के ब्रांड एंबेसडर थे। उन्‍होंंने 2014 में कंपनी पर आरोप लगाया था कि कंपनी ने उस फैसले की अवमानना की है जिसमें यह कहा गया था कि कंपनी उनके नाम को उत्‍पाद के प्रचार या बिक्री के लिए इस्‍तेमाल नहीं करेगी।

मोहम्‍मद शमी ने पेश की मिसाल, बेटी की तबीयत खराब होने के बावजूद नहीं मानी हार

फायदे के लिए दुरुपयोग नहीं

इसपर प्रतिक्रिया देते हुए मैक्स मोबिलिंक प्राइवेट लिमिटेड के शीर्ष अधिकारी ने कहा कि उन्होंने कभी भी किसी तरह के फायदे के लिए महेंद्र सिंह धोनी के नाम का दुरुपयोग नहीं किया।

कट्टर दुश्‍मन भारत और पा‍किस्‍तान को विश्‍व बैंक ने रिपोर्ट में दिखाया आइना

कंपनी ने किया है यह दावा

कंपनी के प्रबंध निदेशक अजय आर. अग्रवाल ने 21 अप्रैल को इस फैसले के संदर्भ में हलफनामा दाखिल किया था। इसमें दावा किया गया कि 17 नवंबर 2014 के बाद से कंपनी ने ऐसा कोई भी उत्‍पाद नहीं बेचा जिसमें धोनी का नाम या तस्‍वीर इस्‍तेमाल हुई हो। धोनी का मैक्‍स के साथ 2012 में विज्ञापन करार खत्‍म हो गया था।

वीडियो: जब सुरक्षा घेरा तोड़कर अपने चहेते क्रिकेटर से मिलने मैदान पर जा पहुंंचा शख्‍स

वेबसाइट और सोशल मीडिया से हटाया नाम

कंपनी का दावा यह भी है कि उसने अपनी वेबसाइट और सोशल मीडिया तक से वह सारी सामग्री हटा ली थी जिसमें कि धोनी का नाम इस्‍तेमाल हुआ हो। कंपनी ने धोनी पर जानबूझकर कोर्ट को गुमराह करने का भी आरोप लगाया है। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई 24 जनवरी तक टाल दी है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
ms dhoni alleged of misleading delhi highcourt says maxx mobile.
Please Wait while comments are loading...