कोहली के द्रोणाचार्य राजकुमार शर्मा के लिए आज भी विराट बच्चा ही है

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। टीम इंडिया के टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली आज दौलत और शौहरत दोनों के शिखर पर बैठे हैं लेकिन किसी के लिए आज भी वो नन्हें विराट ही हैं और वो कोई और नहीं बल्कि विराट के कोच राजकुमार शर्मा हैं।

कोहली ने अपने 'द्रोणाचार्य' राज कुमार शर्मा को अवार्ड के लिए दी बधाई

जिन्हें कि इस बार द्रोणाचार्य अवार्ड के लिए चुना गया है। पीटीआई से बात करते हुए कोच शर्मा ने अवार्ड के लिए सबको शुक्रिया कहा और भावुक होते हुए बताया कि भले ही सबके लिए आज विराट कोहली 'द ग्रेट विराट' हों लेकिन मेरे लिए तो वो आज भी 'नन्हा विराट' ही है। मेरा लिटिल विराट जरा भी मेरे लिए नहीं बदला है। मुझे तो भरोसा ही नहीं होता कि आज वो इतना बड़ा हो गया है।

एक जैसे कपड़े में लंदन की सड़कों पर घूमते दिखे अनुष्का-विराट, Photo वायरल

विराट मेरे पास तब आया था जब वो मात्र 10 साल का था, उसके अंदर आगे बढ़ने का जूनून, मेहनत और जिद थी, जिसकी वजह से आज वो टीम इंडिया के टेस्ट टीम का कप्तान है। कोहली मेरे लिए सिर्फ मेरा छात्र नहीं बल्कि बेटे जैसा है और मुझे उस पर गर्व है। मुझे खुशी है कि वो आज अपने दम पर सफलता पा रहा है और मैं ऊपर वाले प्रार्थना करता हूं कि वो यूंही आगे बढ़ता रहे।

कोहली के मोहक अंदाज पर द्रविड़ का क्यूट जवाब.. दिल छू लेगा आपका..

पीटीआई से बात करते हुए कोच ने अपना एक सीक्रेट भी शेयर किया, उन्होंने बोला कि जब विराट कोहली को अर्जुन अवार्ड मिला था उस समय राष्ट्रपति भवन में मैं भी विराट के साथ मौजूद था। उस वक्त वो केवल 19 साल का था, अवार्ड लेने के बाद वो सीधे मेरे पास आया और मेरे गले लगकर उसने कहा कि देखना सर एक दिन आपको द्रोणाचार्य अवार्ड मिलेगा और देखिये वो दिन आ गया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Kohli has not changed, he is same 'old little' Virat said Coach Rajkumar Sharma. He will be conferred with the prestigious Dronacharya award.
Please Wait while comments are loading...