करुण नायर ने बताया, 300 के करीब पहुंचे तो मन में क्या चल रहा था

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

चेन्नई। इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच के चौथे दिन 300 रनों का जादुई आंकड़ा छूने वाले करुण नायर ने कहा कि वो अपनी खुशी को जाहिर नहीं कर पा रहे कि वो कितना खुश हैं। उन्होंने टीम के अपने साथियों का भी धन्यवाद किया।

KARUN

भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही पांच मैचों की सीरीज के पांचवे मैच में आज चौथे दिन के खेल का आकर्षण करुण नायर रहे। करुण ने शानदार बल्लेबाजी का नमूना पेश करते हुए नाबाद 303 रन बनाए।

दिन का खेल खत्म होने के बाद अपनी पारी के बाद करुण ने कहा कि अब तक की उनकी ये श्रेष्ठ पारी है। उन्होंने कहा कि टीम मैनेजमेंट ने उन्हें टाइम दिया इसके लिए वो शुक्रगुजार हैं।

चेन्नई टेस्ट: करुण नायर ने करियर के तीसरे मैच में लगाई डबल सेन्चुरी, रचा इतिहास

करूण ने कहा कि शतक बना लेने के बाद उनके ऊपर कोई प्रेशर नहीं था, इसके बाद वो लगातार अपने शॉट खेलते रहे। उन्होंने कहा कि बड़े स्कोर की तरफ बढ़ते हुए वो ज्यादा कुछ नहीं सोच रहे थे और बस शॉट खेल रहे थे।

करुण ने कहा कि वो इस बात से खुश हैं कि गेंद सही बल्ले पर आती रही और उन्होंने रन बनाए। करुण की पारी पर उनके माता-पिता ने भी खुशी जाहिर की है। प्रधानमंत्री मोदी ने भी करुण को एतिहासिक पारी के लिए बधाई दी है।

ट्रिपल सेंचुरी मारकर करुण बोले- मैं लकी था जो जिंदा बच सका

25 साल के करुण नायर ने इससे पहले शतक भी नहीं बनाया था लेकिन उन्होंने पहले शतक को ही दोहरे और तिहरे शतक में तब्दील किया।

एक ही मैच में करियर का पहला शतक, डबल और तिहरा शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। नायर ने ताबड़तोड़ पारी में 381 गेंदों का सामना करेत हुए नाबाद 303 रन बनाए।

करुण वीरेंद्र सहवाग के बाद तिहरा शतक बनाने वाले दूसरे भारतीय बन गए हैं। नायर ने भारत के महान बल्लेबाज सचिन (248*), लक्ष्मण (281) और द्रविड़ (270) के करियर के बेस्ट स्कोर को पीछे कर दिया।

करूण नायर ने बनाया तिहरा शतक, जानिए किसको किया पीछे?

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
karun nair says after getting the hundred pressure was off
Please Wait while comments are loading...