ट्रिपल सेंचुरी मारकर करुण बोले- मैं लकी था जो जिंदा बच सका

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

चेन्नई। आज यानी सोमवार को भारतीय क्रिकेटर करुण नायर ने ट्रिपल सेंचुरी मार दी। करुण नायर ने अकेले ही 303 रन बना दिया और नाबाद रहे। आज के दिन उन्होंने अपने साथ हुए एक हादसे का जिक्र किया और कहा- मैं लकी था जो जिंदा बच सका। दरअसल, इसी साल जुलाई में उनके साथ एक नाव हादसा हो गया था, जिसमें उनकी जान बाल-बाल बची थी।

karun

करुण की 303 रनों की पारी पर बोले सहवाग, मजा आ गया

सोमवार को ट्रिपल सेंचुरी लगाने के बाद करुण नायर भारत के दूसरे ऐसे क्रिकेटर बन गए हैं, जिसने ऐसा कारनामा किया है। करुण नायर ने यह कारनामा चेन्नई के चिदंबरम स्टेडियम में इंग्लैंड के खिलाफ हो 5 दिवसीय टेस्ट मैच के चौथे दिन किया है।

चौथे दिन का खेल खत्म होने के बाद जब पूर्व क्रिकेटर रवि शास्त्री ने करुण नायर से उनके साथ इसी साल जुलाई में हुए नाव हादसे के बारे में पूछा तो वे बोले- मैं लकी था जो जिंदा बच सका। मुझे तैरना नहीं आता था। लोगों ने ही मुझे बचाया था।

करूण नायर ने बनाया तिहरा शतक, जानिए किसको किया पीछे?

करुण नायर अपने खेल के बारे में बोले कि यह पारी उनकी जिंदगी की सबसे शानदार पारी है। उन्होंने कहा कि उनके माता पिता भी उस समय स्टेडियम में ही थे और उनका मैच देख रहे थे, लेकिन इस बात का उन पर कोई दबाव नहीं था। उन्होंने कहा- मेरे पिता ने मेरी सभी पारियां देखी हैं। मुझ पर कभी भी कोई अतिरिक्त दबाव नहीं रहा है।

करुण नायर का जन्म राजस्थान में हुआ था। वह कर्नाटक के लिए क्रिकेट खेलते हैं। करुण नायर ने रणजी ट्रॉफी फाइनल मैच में तमिलनाडु के खिलाफ 329 रन बनाए थे।

टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक स्कोर खड़ा कर भारत ने रचा इतिहास

इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए इस मैच में भारत ने टेस्ट क्रिकेट में इतिहास रच दिया है। भारत ने टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सार्वाधिक 759 रन बनाए हैं। इससे पहले 2009 में भारत ने श्रीलंका के खिलाफ 726 रन बनाए थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Karun Nair said i am lucky to live again after boat mishap in Kerala
Please Wait while comments are loading...