जब नायर ने टूटने पर भी नहीं बदला बल्ला, लकी बैट से बनाए 303 रन

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

चेन्नई। क्रिकेट में टोटकों को मानना कोई नई बात नहीं है लेकिन करुण नायर के लिए एक टोटका सोमवार को ऐसा काम कर गया कि उनका नाम इतिहास में दर्ज हो गया। ये है टूटे हुए बल्ले से खेलने का टोटका।

karun

इंग्लैंड के खिलाफ पांचवे टेस्ट के चौथे दिन करुण नायर ने 303 रन की नाबाद पारी खेल बड़े-बड़े दिग्गजों को अपना दीवाना बना लिया है। लेकिन उनका बैट तभी टूट गया था जब वो 105 रन पर थे।

ये सब हुआ चौथे दिन के पहले सत्र में जब करुण 105 पर बल्लेबाजी कर रहे थे, तो बेन स्टोक्स की ऑफ स्टंप के बाहर उछाल लेती एक बॉल उनके बल्ले का ऊपरी हिस्सा लेती हुई पहली स्लिप के ऊपर से चार रन के लिए चली गई।

करुण नायर ने बताया, 300 के करीब पहुंचे तो मन में क्या चल रहा था

करुण को चार रन जरूर मिले लेकिन बॉलर भी इस शॉट पर आह करके रह गए क्योंकि बॉल थोड़ी सी नीचे होती तो पहली स्लिप पर खड़े फिल्डर के हाथों में जा सकती थी। बॉल तो मैदान के बाहर चली गई लेकिन बैट का ऊपरी हिस्सा टूट गया। (तस्वीर में)

karun

इसके बाद लगा कि करुण पैवेलियन की तरफ इशारा कर शायद दूसरा बल्ला मंगवा लेंगे लेकिन उन्होंने अपने बैट को देखा और उसी से खेलना जारी रखा। जिस बैट से पहला शतक बनाया उसे शायद वो छोड़ना नहीं चाहते थे लेकिन ये बैट उनके नाम शाम होते-होते 300 रन बनाने का इतिहास लिख देगा, ये करुण ने भी नहीं सोचा होगा।

करूण नायर ने बनाया तिहरा शतक, जानिए किसको किया पीछे?

बिना प्रेशर लिए बस शॉट खेल रहा था: करुण

भारत और इंग्लैंड के बीच चल रही पांच मैचों की सीरीज के पांचवे मैच में आज चौथे दिन के खेल का आकर्षण करुण नायर ने शानदार बल्लेबाजी का नमूना पेश करते हुए नाबाद 303 रन बनाए।

दिन का खेल खत्म होने के बाद अपनी पारी के बाद करुण ने कहा कि अब तक की उनकी ये श्रेष्ठ पारी है। उन्होंने कहा कि टीम मैनेजमेंट ने उन्हें टाइम दिया इसके लिए वो शुक्रगुजार हैं।

चेन्नई टेस्ट: करुण नायर ने करियर के तीसरे मैच में लगाई डबल सेन्चुरी, रचा इतिहास

करूण ने कहा कि शतक बना लेने के बाद उनके ऊपर कोई प्रेशर नहीं था, इसके बाद वो लगातार अपने शॉट खेलते रहे। उन्होंने कहा कि बड़े स्कोर की तरफ बढ़ते हुए वो ज्यादा कुछ नहीं सोच रहे थे और बस शॉट खेल रहे थे।

करुण की पारी पर उनके माता-पिता ने भी खुशी जाहिर की है। प्रधानमंत्री मोदी ने भी करुण को एतिहासिक पारी के लिए बधाई दी है

भारत के लिए तिहरा शतक बनाने वाले दूसरे खिलाड़ी

25 साल के करुण नायर ने इससे पहले शतक भी नहीं बनाया था लेकिन उन्होंने पहले शतक को ही दोहरे और तिहरे शतक में तब्दील किया।

एक ही मैच में करियर का पहला शतक, डबल और तिहरा शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। नायर ने ताबड़तोड़ पारी में 381 गेंदों का सामना करेत हुए नाबाद 303 रन बनाए।

ट्रिपल सेंचुरी मारकर करुण बोले- मैं लकी था जो जिंदा बच सका

करुण वीरेंद्र सहवाग के बाद तिहरा शतक बनाने वाले दूसरे भारतीय बन गए हैं। नायर ने भारत के महान बल्लेबाज सचिन (248*), लक्ष्मण (281) और द्रविड़ (270) के करियर के बेस्ट स्कोर को पीछे कर दिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
karun nair made triple century with crack bat
Please Wait while comments are loading...