#Ind vs Pak: आग इधर भी है और उधर भी, चाहत इधर भी है और उधर भी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लंदन। आज एक बार फिर से क्रिकेट के मैदान पर भारत और पाकिस्तान आमने-सामने होंगे क्योंकि आज चैंपियंस ट्रॉफी 2017 का फाइनल जो है इसलिए खेल के लिए भावनाओं का सैलाब अपनी चरम स्थिति में हैं, ये आग दोनों ही ओर (भारत और पाकिस्तान) बराबर की लगी है।

भारत-पाक महामुकाबले पर इरफान पठान ने क्या कहा, पढ़िए

भारत बनाम पाकिस्तान

भारत बनाम पाकिस्तान

जहां सरफराज की टीम अपने सभी हारों का बदला लेने के लिए आज मैदान में उतरेगी तो वहीं कोहली की सेना एक बार फिर से पाकिस्तान को धूल चटाने के इरादे से खेल खेलेगी लेकिन जीतेगा वो ही जो बढ़िया खेलेगा।

प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक उम्दा

प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक उम्दा

तो वहीं भारतीय टीम का प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक उम्दा ही रहा है, श्रीलंका से हारने के बाद उसने जिस तरह से दक्षिण अफ्रीका और बांग्लादेश को पीटा है, उसकी जितनी भी तारीफ की जाए, वो कम ही है, इसलिए आज भी वो अपने पुराने लय में नजर आएगी।

उलट-फेर में माहिर

उलट-फेर में माहिर

ऐसी ही आशा सबको है लेकिन उलट-फेर में माहिर और अंत तक हार ना मानने वाला जुझारू पाकिस्तान कप्तान विराट कोहली के लिए मुश्किलें पैदा कर सकता है।

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल मैच की पूर्वसंध्या पर संकेत दिए हैं कि रविवार को पाकिस्तान के खिलाफ होने वाले अहम मैच में भारतीय टीम बिना किसी बदलाव के उतर सकती है और उनके लिए ये मैच अन्य मैचों की ही तरह होगा।

भावनाएं उफान पर

भावनाएं उफान पर

हालांकि कप्तान कोहली भी जानते हैं कि मैदान पर पाकिस्तान का मैच केवल एक खेल नहीं बल्कि एक जुनून है, जिसमें हर किसी की तमन्ना एक-दूसरे को पटखनी देने को होती है और जिसमें भावनाएं उफान पर होती हैं इसलिए आज एक अच्छा मैच देखने को मिलेगा, इसकी आशा हर किसी को है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In a coincidence, Virat Kohli and Sarfraz Ahmed will not be the only captains leading their respective sides out for an India-Pakistan sporting contest, or war as fans would prefer calling it, in London on Sunday.
Please Wait while comments are loading...