WWC: विस्फोटक बल्लेबाजी के बाद भी खुश नहीं हैं स्मृति मंधाना!

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लंदन, 30 जून: स्मृति मंधाना आईसीसी महिला विश्व कप से पहले भारतीय चयनकर्ताओं के लिए एक चिंता का विषय बनी हुईं थी, लेकिन इस सलामी बल्लेबाज ने चयनकर्ताओं के विश्वास को सही ठहराया है। पिछले काफी समय से चोट के चलते मंधाना ने जनवरी से कोई क्रिकेट नहीं खेला था।

लेकिन विश्वकप की शुरूआत में अपने पहले ही मैच में आतिशी पारी खेलकर मंधाना ने खुद के टैलेंट को एक बार फिर साबित कर दिया। मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ उद्घाटन मैच में मंधाना ने 72 गेंदों में 90 रन बनाए थे।

पहले मैच में शतक से चूकने के बाद मंधाना ने दूसरे मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपनी कमस पूरी कर ली। वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे मैच में स्मृति मंधाना ने 108 गेंदों पर नाबाद 106 रन बनाए और प्लेयर ऑफ द मैच चुनी गईं।

WWC: विस्फोटक बल्लेबाजी के बाद भी खुश नहीं हैं स्मृति मंधाना!

टूर्नामेंट की ड्रीम शुरूआत करने के बाद मंधाना अपनी इसी फॉर्म को टूर्नामेंट के आगामी मैच में ले जाने के लिए बेताब हैं। मंधाना ने कहा- "यह अभी खत्म नहीं हुआ है लेकिन मैं वास्तव में खुश हूं कि चोट के बाद मैंने अच्छा प्रदर्शन किया है। पहले मैच, इंग्लैंड के खिलाफ अभ्यास मैच में मैं वास्तव में ऑफ-टच थी और मैं बहुत परेशान भी थी। इसके बाद मैंने अभ्यास मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ नाबाद 82 रन बनाये जिससे मुझे विश्वास हो गया कि मेरी बल्लेबाजी खत्म नहीं हुई है। मैं बल्लेबाजी कर सकती हूं!"

हालांकि केवल 25 मैचों में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने करियर का दूसरा शतक लगाने वाली मंधाना खुश नहीं हैं। मंधाना का कहना है कि "मैंने पिछले पांच महीनों में कड़ी मेहनत करके इसलिए फिट नहीं हुई हूं कि केवल 90 या शतक बनाऊं। मैं भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन करना चाहती हूं और विश्व कप जीतना चाहती हूं। इसी के लिए मैं पिछले पांच महीनों से तरस रही हूं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
ICC Women's World Cup: Smriti Mandhana 'not satisfied' despite two match-winning knocks
Please Wait while comments are loading...