हेलीकॉप्टर शॉट सीखने के लिए धोनी अपने दोस्त को खिलाते थे समोसा

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। टीम इंडिया के सबसे सफलतम कप्तान के रूप में खुद को स्थापित करने वाले महेंद्र सिंह धोनी अपने शांत स्वभाव वे हेलीकॉप्टर शॉट के लिए दुनिया में विख्यात हैं। लेकिन कम ही लोग जानते हैं कि धोनी के हेलीकॉप्टर शॉट के पीछे कोई और है।

टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम की सबसे दिलचस्प बातें पहली बार आई लोगों के सामने

फिल्म में पता चली हेलीकॉप्टर शॉट के पीछे की कहानी

जिस वक्त पहली बार महेंद्र सिंह धोनी ने हेलीकॉप्टर शॉट खेला था तो लोग देखकर चकित हो गए थे और लोग इस शॉट का जनक धोनी को ही मानते थे। लेकिन हालिया रीलीज फिल्म एमएस धोनी अनटोल्ड स्टोरी में इस बात का खुलासा हुआ कि हेलीकॉप्टर शॉट उनके एक दोस्त ने इजाद किया था।

हेलीकॉप्टर नहीं थप्पड़ शॉट था

हेलीकॉप्टर शॉट का इजाद धोनी के बचपन के दोस्त संतोष लाल ने किया था, जोकि अब इस दुनिया में नहीं हैं। संतोष लाल का तीन वर्ष पहले ही निधन हो गया था। हालांकि हेलीकॉप्टर शॉट को धोनी का दूसरा नाम कहा जा सकता है, लेकिन धोनी के दोस्त इसे थप्पड़ शॉट कहते थे।

बचपन से हमेशा अच्छे दोस्त रहे संतोष

हालांकि संतोष लाल को कम ही लोग जानते थे, लेकिन फिल्म आने के बाद अब लोग हेलीकॉप्टर शॉट के असली जनक को जानने लगे है। जब धोनी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विख्यात हो गए थे उसके बाद भी वह अपने दोस्त के साथ दोस्ती बरकार रखे हुए थे। संतोष लाल धोनी के साथ झारखंड रणजी टीम में साथ थे और पूरे जीवन काल में दोनों हमेशा अच्छे दोस्त रहे। संतोष लाल का 32 वर्ष की उम्र में 2013 में निधन हो गया था।

संतोष के लिए धोनी ने भेजा था हेलीकॉप्टर

जिस वक्त संतोष लाल की तबियत काफी खराब थी तो धोनी ने हर संभव उनकी मदद की, धोनी ने संतोष के लिए हेलीकॉप्टर तक भेजा था जब उन्हें पेट की गंभीर बीमारी थी।

खराब मौसम ने ले ली संतोष की जान

जिस वक्त धोनी को पता चला कि उनके दोस्त की तबियत बहुत खराब है तो वह टीम इंडिया के साथ दौरे पर थे लेकिन उन्होंने रांची से दिल्ली पहुंचाने के लिए संतोष के लिए एयर एंबुलेंस भेजी थी, लेकिन खराब मौसम की वजह से हेलीकॉप्टर को वाराणसी में ही लैंड करना पड़ा और जबतक वह दिल्ली पहुंचता तबतक काफी देर हो चुकी थी।

पूरा झारखंड घूमा था धोनी ने संतोष के साथ

धोनी और संतोष लाल ने काफी समय तक टेनिस बॉल से क्रिकेट साथ खेला था। दोनों ही बचपन से ही साथ थे और वह साथ में झारखंड घूमा करते थे। धोनी को संतोष का बल्लेबाजी का स्टाइल काफी पसंद था।

धोनी खिलाते थे समोसा

संतोष और धोनी दोनों ही साथ में रेलवे में नौकरी करते थे, संतोष एक निर्भीक बल्लेबाज थे, उन्होंने ही धोनी को हेलीकॉप्टर शॉट खेलना सिखाया था। धोनी संतोष से हेलीकॉप्टर शॉट सीखने के लिए उन्हें समोसा खिलाते थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Helicopter Shot was not invented by Dhoni but his friend who is no more. Santosh Lal Was the inventor of Helicopter shot.
Please Wait while comments are loading...