पाकिस्‍तान क्रिकेट के सुपरस्‍टार हनीफ मोहम्मद की मौत की खबर गलत, बेटे ने कहा जिंदा हैं अब्बा

Subscribe to Oneindia Hindi

नयी दिल्‍ली। पाकिस्‍तान क्रिकेट के सुपरस्‍टार और पूर्व कप्‍तान हनीफ मोहम्‍मद की मौत की खबर को उनके बेटे ने अफवाह बताया है। हनीफ मोहम्‍मद के बेटे ने कहा है कि मौत का खबर गलती से दी गई थी। क्‍योंकि वेंटिलेटर पर अचानक से उनकी सांस रुक गई और फिर वापस आ गई।

Hanif Mohammad survives after losing heartbeat for six minutes

आपको बता दें कि हनीफ मोहम्‍मद की उम्र 81 साल है और वो फेफड़े की कैंसर से जूझ रहे हैं। जुलाई के आखिरी सप्‍ताह से उन्‍हें सांस लेने में परेशानी हो रही थी जिसके बाद उन्‍हें भर्ती कराया गया। उसके बाद से ही वो वेंटिलेटर पर हैं। हनीफ मोहम्‍मद को पाकिस्‍तान का लिटिल मास्‍टर कहा जाता है। हनीफ 1954-55 में भारत के पहले दौरे पर आई पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के मेंबर थे।

हनीफ मोहम्‍मद का क्रिकेट रिकॉर्ड

1957-58 में हनीफ ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में 970 मिनट तक बैटिंग की और 337 रन बनाए। यह 40 साल तक टेस्ट हिस्ट्री की सबसे लंबी इनिंग रही। हनीफ ने 55 टेस्ट मैच खेले और 3915 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 12 शतक और 15 अर्द्धशतक लगाई। फर्स्ट क्लास क्रिकेट के 238 मैच में उन्होंने 17059 रन बनाए और 55 सेन्चुरी, 66 हाफ सेन्चुरी लगाई। 499 रन उनका हाइएस्ट स्कोर रहा। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उन्होंने विकेटकीपिंग भी की थी और 12 स्टंप किए थे।

 

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर हनीफ मोहम्मद (81 साल) का यहां के आगा खां हॉस्पिटल में निधन हो गया। उन्हें फेफड़ों का कैंसर था। जुलाई के आखिरी हफ्ते में सांस लेने में हो रही दिक्कत के कारण उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था। वे वेंटिलेटर पर थे। बैटिंग स्किल के कारण उन्हें पाकिस्तान का लिटिल मास्टर कहा जाता था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Hanif Mohammad returned back to life after losing heartbeat for six minutes as he battles for life at a hospital in Karachi.
Please Wait while comments are loading...