किस्मत पाक के साथ, एक बार फिर जागी बुमराह की पुरानी समस्या

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

ओवल। भारत के खिलाफ बल्लेबाजी करने उतरी पाकिस्तान की टीम को आज किस्मत का साथ मिल रहा है। जिस तरह से जसप्रीत बुमराह ने अपने दूसरे ही ओवर में फकर जमान का विकेट ले लिया था, लेकिन एक बार फिर से बुमराह की पुरानी समस्या ने उनका साथ नहीं छोड़ा। अंपायर ने जब इस गेंद को तीसरे अंपायर के पास नो बॉल देखने के लिए भेजा तो यह गेंद नो बॉल निकली। जिसके चलते फकर को बड़ा जीवनदान मिला।

इसे भी पढ़ें- चैंपियंस ट्रॉफी 2017: भारत-पाक के महामुकाबले के बीच स्‍टेडियम के बाहर 'गो नवाज गो' का नारा

3 रन पर दिया फखर को जीवनदान

3 रन पर दिया फखर को जीवनदान

फकर जमान जिस तरह से 3 रन के स्कोर पर बल्लेबाजी कर रहे थे, उसी वक्त बुमराह ने अपने दूसरे ओवर की पहली ही गेंद पर शॉट लगाया, लेकिन गेंद बैंट का बाहरी किनारा लगते धोनी के पास पहुंची। धोनी ने इस कैच को आसानी से पकड़ा, लेकिन तीसरे अंपायर ने इस गेंद को नो बॉल करार दिया, जिसके बाद फ्री हिट पर फकर ने चौका जड़ दिया। ऐसे में इस नो बॉल के चलते ना सिर्फ फकर को जीवनदान मिला बल्कि पाकिस्तान टीम को पांच अतिरिक्त रन भी मिले।

आखिरी ओवर में भी फिर दोहराई गलती

आखिरी ओवर में भी फिर दोहराई गलती

अपने दूसरे ओवर में बुमराह ने जो नो बॉल डाली थी और फखर को जीवनदान दिया था, उसके बाद माना जा रहा था कि वह अपनी गेंदबाजी में सुधार करेंगे, लेकिन ऐसा होता नहीं दिखा। अपने 9वें और मैच के आखिरी ओवर में बुमरा ने एक बार फिर से वही गलती की। इस ओवर में बुमराह ने फिर से पैरों की नो बॉल डाली और एक गेंद कमर के उपर फेंकी, जिसे भी नो बॉल करार दिया गया है। हालांकि वह सौभाग्यशाली रहे कि इस दोनों ही फ्री हिट पर पाकिस्तान के बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सके।

दिशाहीन रहे बुमरा

दिशाहीन रहे बुमरा

बुमराह ने आज मैच में कुल 9 ओवर डाले और वह काफी महंगे गेंदबाज साबित हुए। उन्होंने 9 ओवर में 68 रन खर्च किए। इस दौरान बुमराह ने 5 वाइड और तीन नो बॉल डाली। ऐसे में आज बुमराह ना सिर्फ महंगे साबित हुए बल्कि पूरी तरह से दिशाहीन भी साबित हुए।

भारत के सामने 339 रन का लक्ष्य

भारत के सामने 339 रन का लक्ष्य

गौरतलब है कि आज के अहम मुकाबले में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया, पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने जीत के लिए 339 रनों का लक्ष्य रखा। भारत की टीम में कोई भी बदलाव नहीं किया गया है और सभी खिलाड़ी टीम में हैं, जिन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ मैच खेला था। मैच से पहले खुद कप्तान कोहली ने कहा था कि हमारे लिए यह मैच साधारण मैच की तरह है, हम जीत के इरादे से मैदान में उतरेंगे।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Fakhar Jaman gets lifeline on Jasprit Bumra's no ball. Luck in in the favor of Pakistan as team gets boundary on the next ball.
Please Wait while comments are loading...