दिलशान ने संन्यास के बाद बताई 'मन की बात' तो हो गए भावुक

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

दांबुला। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के हर फॉर्मेट से हाल ही संन्यास लेने वाले श्रीलंकाई क्रिकेटर तिलकरत्ने दिलशान ने एक बड़ा खुलासा किया है। इस खुलासे ने हर किसी को चौंका दिया है।

दिलशान ने संन्यास के बाद बताई 'मन की बात' तो हो गए भावुक

रविवार को आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने ​क्रिकेट कॅरियर का आखिरी वनडे मैच खेलकर संन्यास ले लिया। रिटायरमेंट के बाद उन्होंने अपनी ही टीम के कुछ पूर्व और मौजूदा खिलाड़ियों पर ही सवाल उठा दिए! उन्होंने कहा कि जब वह टीम के कप्तान थे तब कई खिलाड़ियों ने उनका समर्थन नहीं किया था।

अप्रैल 2011 से जनवरी 2012 तक श्रीलंकाई टीम के कप्तान रहे दिलशान से यह सवाल पूछा गया कि इस दौरान आपकी सबसे बड़ी चुनौती क्या रही? इसके जवाब में उन्होंने कहा कि उस वक्त टीम के कई साथियों ने उनका समर्थन नहीं किया। कप्तान रहते हुए कई तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ा।

दिलशान ने संन्यास के बाद बताई 'मन की बात' तो हो गए भावुक

मुझे अचानक कप्तानी से हटा दिया गया था, जिससे कि मैं दुखी हो गया। उन्होंने कहा कि मैं हमेशा देश के लिए खेला और इस बात पर मुझे गर्व है।

यह भी पढ़ें : भारत-वेस्टइंडीज के पहले टी20 मुकाबले का आंखों देखा हाल जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

दिलशान ने अप्रत्यक्ष रूप से कुमार संगकार, महेला जयवर्धने और एंजेलो मैथ्यूज को निशाने पर लिया। उन्होंने बगैर नाम लिए कहा कि जब मेरी उंगली में चोट लग गई थी तो मैं खेल नहीं सका था। उस वक्त दो पूर्व कप्तानों ने टीम का नेतृत्व करने से इनकार कर दिया था। काफी मान-मनौव्वल के बाद इनमें से एक तैयार हुआ था।

यह भी पढ़ें : वीरू पाजी ने पूरी की देश की शान और रियो ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक की यह विश, जानिए कैसे

साथ ही उन्होंने कहा कि एक गेंदबाज ने उनकी कप्तान के दौरान चोट का हवाला दिया और गेंदबाजी करने से इनकार कर दिया। उसी बीच एक हफ्ते बाद जब वह कप्तानी से हटा दिए गए तब वह गेंदबाज अचानक बॉलिंग करने लगा।

दिलशान टेस्ट क्रिकेट से पहले ही रिटायरमेंट ले चुके हैं। अगले महीने आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले टी-20 मैच के बाद उनका अंतरराष्ट्रीय कॅरियर खत्म हो जाएगा। 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Srilankan cricketer tilakaratne dilshan says no support during captaincy from team players. He alleged few of ex catains and one bowler especially in press conference after retirement.
Please Wait while comments are loading...