गौतम ने पूछा 'गंभीर' सवाल- आजादी के 70 साल बाद भूख जरूरी या मंदिर-मस्जिद?

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। एक बार फिर से देश के नामचीन क्रिकेटरों में से एक गौतम गंभीर ने ट्विटर पर लोगों का ध्यान एक ज्वलंत मुद्दे की ओर खींचा है। आईपीएल केकेआर के कैप्टन गंभीर ने ट्विटर पर देशवासियों से एक गंभीर सवाल का जबाव मांगा है।

Gautam Gambhir's this tweet may bring tears in your eyes । वनइंडिया हिंदी

'खेल रत्न' देवेंद्र झाझरिया: सिर्फ एक हाथ से जीत ली दुनिया, बने लोगों के लिए मिसाल

उन्होंने अपने ट्वीटर अकाउंट पर एक बच्चे की तस्वीर पोस्ट की है। यह तस्वीर एक बाल मजदूर की है। 

हमें अभी कई मंदिर और मस्जिद बनाने हैं...

हमें अभी कई मंदिर और मस्जिद बनाने हैं...

उसके चेहरे पर कालिख है और शरीर पर पूरे कपड़े भी नहीं है, उसकी आंखें पूरी दुनिया से लाखों सवाल कर रही हैं। तस्वीर के साथ गंभीर ने कमेंट लिखा है कि हम तेरे लिए कुछ नहीं कर सकते ऐ दोस्त, हमें अभी कई मंदिर और मस्जिद बनाने हैं।

क्यों कोई सलाह है?'

इसके बाद गंभीर ने अगले ट्वीट पर लोगों से सवाल किया है कि आजादी के 70वें साल में भी मैं अभी तक अपने युवा दोस्तों के लिए इस सवाल का जबाव ढूंढ रहा हूं। क्यों कोई सलाह है?'

7 हजार लोग लाइक कर चुके हैं

गंभीर का यह ट्वीट तेजी से वायरल हो रहा है। लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया भी दे रहे हैं। अब तक इस ट्वीट को 1500 से ज्यादा लोग रीट्वीट कर चुके हैं और करीब साढ़े 7 हजार लोग लाइक कर चुके हैं।

विरोधियों को कड़ा जवाब देते रहते हैं..

वैसे ये कोई पहला मौका नहीं है जब गंभीर ने इस तरह से सामाजिक मुद्दे को उठाया है, चाहे कश्मीर में सेना के जवानों पर पत्थर फेंकने की घटना हो, या फिर अलगाववादियों की ओर से चैंपियंस ट्रॉफी में पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाना हो, गंभीर हमेशा अपने ट्वीट के जरिए देश के विरोधियों को कड़ा जवाब देते रहते हैं।

ट्वीट पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है

फिलहाल गंभीर के इस मार्मिक ट्वीट पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है, अपनी बात नीचे के कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें क्योंकि सवाल तो वाजिब है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Cricketer Gautam Gambhir Asked Serious Question On Mandir Masjid At Twitter. India will commemorate its 70th year of independence from British Raj on August 15th.
Please Wait while comments are loading...