बीसीसीआई ने लोढ़ा समिति के आरोपों का SC में किया खंडन, भज्जी भी समर्थन में

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सु्प्रीम कोर्ट में आज क्रिकेट प्रशासन को लेकर एक अहम सुनवाई हुई जिसमें बीसीसीआई यानी भारतीय ​क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड और लोढ़ा कमेटी आमने-सामने थी।

bcci & lodha panel committee clash in supreme court. सु्प्रीम कोर्ट में आज क्रिकेट प्रशासन को लेकर एक अहम सुनवाई हुई जिसमें बीसीसीआई यानी भारतीय ​क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड और लोढ़ा कमेटी आमने-सामने थी।

पढ़ें - महेंद्र सिंह धोनी से कितनी ज्‍यादा है विराट कोहली की सैलरी, जानिए इस खबर में

BCCI का लोढ़ा समिति पर पलटवार

बीसीसीआई ने आज सर्वोच्च न्यायालय में लोढ़ा समिति के सभी आरापों के खिलाफ अपना जवाब दाखिल किया। बीसीसीआई ने लोढ़ा समिति के उन आरोपों का खंडन किया जिनमें यह कहा गया था कि वह समिति की सिफारिशों को नजरअंदाज कर रहा है।

बीसीसीआई की मानें तो वोटिंग के जरिए लोढ़ा समिति की ​सभी सिफारिशों को नामंजूर करने के लिए बोर्ड अधि​कारी एकमत हुए हैं।

पढ़ें - इस बल्‍लेबाज ने मचाया ऐसा तूफान कि छोटा पड़ गया विशाल स्कोर

बीसीसीआई ने मामले पर दी सफाई

लोढ़ा समिति और बीसीसीआई के बीच तनातनी के बीच आज बोर्ड ने एक अहम बयान भी दिया। उसने कहा,'हमने जस्टिस आरएम लोढ़ा को 40 मेल भेजे हैं और हम इन्हें कोर्ट में पेश करेंगे। यह हकीकत नहीं है कि हमने लोढ़ा कमेटी के संदेशों को नजरअंदाज नहीं किया।'

bcci & lodha panel committee clash in supreme court. सु्प्रीम कोर्ट में आज क्रिकेट प्रशासन को लेकर एक अहम सुनवाई हुई जिसमें बीसीसीआई यानी भारतीय ​क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड और लोढ़ा कमेटी आमने-सामने थी।

पढ़ें - न्‍यूजीलैंड के खिलाफ इंदौर टेस्‍ट से पहले भारत को लगा एक और बड़ा झटका

यह है जस्टिस लोढ़ा का पक्ष

वहीं दूसरी तरफ जस्टिस आरएम लोढ़ा ने अपना पक्ष रखते हुए कोर्ट को बताया,'हमने उन सभी बातों का जिक्र रिपोर्ट में कर दिया है, जो कि हम कहना चाहते थे। अब इसपर सुप्रीम कोर्ट को संज्ञान लेना है।' ऐसा माना जा रहा है कि गुरुवार को कोर्ट बीसीसीआई के खिलाफ कोई सख्त फैसला सुना सकता है।

कोर्ट बीसीसीआई को दे चुका चेतावनी

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, बीसीसीआई लोढ़ा ​समिति की कुछ सिफारिशों को मानने के खिलाफ है। इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट बीसीसीआई के खिलाफ सख्त निर्णय लेने के लिए पहले ही चेता चुका है।

पढ़ें - इंदौर टेस्ट में गावस्कर-पटौदी को पछाड़ सकते हैं विराट कोहली

भज्जी ने कहा, तमाशा नहीं आईपीएल

वहीं इस मामले पर भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह ने भी बयान दिया है। उन्होंने कहा कि,'आईपीएल कोई तमाश नहीं है लोढ़ा सर। यहां नई प्रतिभाओं को मौका मिलता है और यह लोकप्रिय टूनार्मेंट है।' भज्‍जी के अलावा इरफान पठान और पार्थिव पटेल भी आईपीएल के पक्ष में आए हैं। 

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bcci & lodha panel committee clash in supreme court.
Please Wait while comments are loading...