बोले ठाकुर: BCCI को डूबते जहाज की तरह छोड़ गए शशांक मनोहर

Subscribe to Oneindia Hindi

ग्रेटर नोएडा। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC)के अध्यक्ष शशांक मनोहर पर आरोप लगाया है कि वो बोर्ड को जरूरत के समय डूबते हुए जहाज की तरह छोड़ कर चले गए।

anurag thakur

गौरतलब है कि बीते दिनोंBCCI ने ICC पर अपने उस फैसले से पीछे हटने का दबाव बनाया था जिसके अंतर्गत जो दो स्तरीय टेस्ट प्रणाली लागू की जा सकती थी। BCCI के दबाव के बाद ICC को झुकना पड़ा था।

अक्टूबर से शुरू हो रही है रेलवे की सुविधा, आपको पता है?

असहमत होना कोई बड़ी बात नहीं

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा स्थित एक मीटिंग के दौरान ठाकुर ने कहा कि यह कोई मामला नहीं है कि मैं ICC के अध्यक्ष से असहमत हूं या फिर उनके बयानों से सहमत नहीं रहता लेकिन एक अध्यक्ष के तौर पर मैं यह जरूरी समझता हूं कि मेरे बोर्ड मेंबर्स क्या फील कर रहे हैं।

जोर का झटका: 66 फीसदी तक बढ़ सकता है दिल्ली मेट्रो का किराया

गुस्से से लबरेज ठाकुर ने पत्रकारों से कहा कि जब बोर्ड के सदस्यों को अध्यक्ष के तौर पर शशांक मनोहर की जरूरत BCCI को थी (सर्वोच्च न्यायालय में कानूनी लड़ाईयों के दौरान) तब वो बीच में ही छोड़ कर चले गए। ये उसी तरह है जैसे कोई जहाज अपने डूबते हुए जहाज को अन्य सदस्यों के साथ छोड़ कर चला जाए।

कंफर्ट जोन की तलाश में थे शशांक

मोदी सरकार ने बनाया हर मंत्री को विदेश भेजने का प्लान, कम से कम दो देशों का करेंगे दौरा

इतना ही ठाकुर ने इस दौरान शशांक पर आरोप लगाया कि वो कंफर्ट जोन की तलाश में थे।

उन्होंने कहा कि यहां एक बात समझने लायक हैकि जब ICC का संविधान बदला गया तो मनोहर BCCI के अध्यक्ष थे। उन्हें बोर्ड के सदस्यों को विश्वास में लेना था लेकिन वो अपने इंतजामात में लगे हुए थे।

ठाकुर ने यह भी कहा कि वो आज जो कुछ भी BCCI की वजह से ही हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
As BCCI president, Manohar left a sinking ship: Thakur
Please Wait while comments are loading...