Rio Olympics 2016 Shooting: फाइनल के लिए क्वॉलिफाई करने में नाकाम रहीं अपूर्वी चंदेला और अयोनिका पाल

Subscribe to Oneindia Hindi

रियो डी जेनेरियो। रियो ओलंपिक में भारत के खाते में दीपिका कुमारी की विफलता के बाद एक और निराश करने वाली खबर आई है। भारत की महिला शूटर अपूर्वी चंदेला और अयोनिका पाल भी फाइनल के लिए क्वॉ​लीफाई करने में नाकाम रहीं। दोनों ने इससे पहले राष्ट्रमंडल खेल 2014 में क्रमश: स्वर्ण और रजत पदक जीते थे। हालांकि, शूटिंग में भारतीय चुनौती अभी पूरी तरह ध्वस्त नहीं हुई है। पुरुष वर्ग में अभी भी जीतू राय और गुरप्रीत सिंह से काफी उम्मीदें हैं। PICS : देखिए रियो ओलंपिक 2016 ओपनिंग सेरेमनी से भारतीय एथलीट्स की बेस्ट तस्वीरें, सचिन भी रहे मौजूद

रियो: अपूर्वी और अयोनिका 10 मीटर में नहीं कर पाईं क्वॉलीफाई

10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में अपूर्वी और अयोनिका ने क्रमश: 34वां और 43वां स्थान हासिल किया। अयोनिका पाल ने 407.0 अंक तो वहीं अपूर्वी ने 411.6 अंक हासिल किए। इस प्रतियोगिता में चीन की महिला निशानेबाज ली डु ने 420.7 स्कोर के साथ पहले स्थान पर कब्जा जमाया और फाइनल के लिए अपना स्थान पक्का कर लिया। आपको बता दें कि फाइनल में महज 8 खिलाड़ी ही हिस्सा लेंगे। हॉकी में 36 साल के सूखे को ख़त्म करने को उतरेगी भारतीय हॉकी टीम, आयरलैंड से पहला मुकाबला

जीतू राय से हैं काफी उम्मीदें

29 वर्षीय जीतू ओलंपिक शूटिंग सेंटर के जब अपनी पसंदीदा 10 मी एयर पिस्टल स्पर्धा में अपनी पिस्टल उठाएंगे तो हर भारतीय खेलप्रेमी की नज़र उनपर होगी। पिछले दो सालों में जबरदस्त फॉर्म में चले रहे जीतू ने राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। जीतू ने जून में अजरबेजान में विश्वकप में रजत पदक जीता था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rio Olympics 2016 : Indian women shooters Apurvi Chandela and Ayonika Paul got off their mark in the 10m Air Rifle Women's Qualification round on saturday. both couldnot make thier way to finals.
Please Wait while comments are loading...