बिंद्रा की तरह भारत को इंडिविजुअल गोल्ड दिला सकती हैं सिंधु

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

रियो डि जेनेरियो। अपना पहला ओलंपिक खेल रही भारत की शटलर क्वीन पीवी सिंधु ने जिस तरह से सेमीफाइनल जीतकर फाइनल में जगह बनायी है उसकी जितनी तारीफ की जाये कम है। उन्होंने गुरूवार को हुए कड़े मुकाबले में जापानी खिलाड़ी नोजोमी ओकुहारा को 21-19 और 21-10 से हरा कर एक नया इतिहास लिखा है।

Must Read: शटलर क्वीन पीवी सिंधु की बायोग्राफी

आज उनका मुकाबला फाइनल में वर्ल्ड की नंबर वन कैरोलिन मारिन से होगा, अगर वो ये मैच हारती भी हैं तो भी उनका सिल्वर मेडल पक्का है लेकिन अगर वो जीत जाती हैं तो शूटर अभिनव बिंद्रा के बाद ओलंपिक में दूसरा एकल गोल्ड दिलाने वाली भारतीय एथलीट और पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन जायेंगी।

Must Watch: पीवी सिंधु ने किस तरह से तोड़ी चीन की दीवार

इसलिए आज हर भारतीय की नजर शाम 6:55 बजे टीवी चैनल पर रहेगी क्योंकि उसी समय हजारों किमी दूर रियो में भारत की बेटी पीवी सिंधु स्पेन की खिलाड़ी के खिलाफ फाइनल खेलने के लिए बैडमिंटन कोर्ट में उतरेगींं।

बीजिंग ओलिंपिक में अभिनव बिंद्रा ने जीता था सोना

आपको बता दें कि साल 2008 में बीजिंग ओलिंपिक में अभिनव बिंद्रा ने भारत के लिए पहली बार इंडिविजुअल गोल्ड शूटिंग में जीता था। मालूम हो कि बिंद्रा ने खुद ट्विटर पर पीवी सिंधु को बधाई देते हुए इच्छा जताई है कि वो भी गोल्ड क्लब में उनकी तरह शामिल हों।

 
देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Abhinav Bindra wants wants PV Sindhu to join the club of Olympic gold medal winners from India, where he is sitting alone.
Please Wait while comments are loading...