भोरंज उप चुनाव: भाजपा में बगावत, कांग्रेस ने 24 घंटे में बदला प्रत्याशी

Subscribe to Oneindia Hindi

शिमला। भारतीय जनता पार्टी ने आज भोरंज विधानसभा उपचुनाव के लिए धूमधड़ाके के साथ अपने प्रत्याशी डॉ. अनिल धीमान का नामांकन पत्र दाखिल करवाया। लेकिन इसी के साथ भाजपा में बगावत भी शुरू हो गई। अनिल धीमान को प्रत्याशी बनाये जाने के विरोध में पवन चंदेल ने बगावत कर दी।

इससे पहले आज स्व. आईडी धीमान के बेटे डॉ.अनिल धीमान ने भोरंज स्थित एसडीएम कार्यालय में पर्चा भरा, इस दौरान उनके साथ नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, विधायक रणधीर शर्मा, प्रवीण शर्मा व अन्य मौजूद रहे। काफिले में बड़ी तााद में उनके समर्थक भी थे।

भाजपा की ओर से कवरिंग कैंडिडेट के रूप में किसी ने भी नामांकन नहीं भरा। जाहिर है कि पवन चंदेल को पार्टी ने इस उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी डॉ. अनिल धीमान का कवरिंग कैंडिडेट बनाया था, पर उन्होंने पार्टी से बगावत कर ली है। इस अवसर पर पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि हस सीट वर्षों से भाजपा के पास रही है और इस पर भाजपा का ही कब्जा रहेगा।

यह चुनाव के जरिए प्रदेश में सत्ता परिवर्तन की शुरुआत होगी। धूमल ने कहा कि आज पार्टी द्वारा चुने गए उम्मीदवार डॉ. अनिल धीमान ने नामांकन दाखिल किया है हमें विश्वास है कि वह इस उपचुनाव में जीत हासिल करेंगे ।

भाजपा का दावा- हासिल होगी जीत

भाजपा का दावा- हासिल होगी जीत

उन्होंने कहा कि वह भोरंज में भाजपा की कई सालों से जीतती आई है और इस बार भी जीत हासिल होगी । वही पार्टी से बगावत कर नामांकन दाखिल करने वाले पवन चन्देल को लेकर धूमल ने कहा कि उन्हे इसका फर्क नहीं पड़ता है। बगावत करने वाले के साथ पार्टी सहयोग नहीं करेगी। पार्टी का पूर्ण सहयोग डा. अनिल धीमान के साथ है। वहीं भाजपा प्रत्याशी अनिल धीमान ने कहा कि उन्हें भोरज की जनता पर भरोसा है कि वह उनका साथ देगी और वह भारी मतों से चुनावों में विजय प्राप्त करेंगे। अपने लिये भोरंज उपचुनाव को आसान मान रही भाजपा आज पहले ही कदम पर परेशानी में आ गई है।

झेलना पड़ा बगावत का दंश

झेलना पड़ा बगावत का दंश

कारण सीधा है इस उपचुनाव के शुरुआती दौर में ही भगवा पार्टी को बगावत का दंश झेलना पड़ रहा है। बगावत करने वाला कोई और नहीं बल्कि पार्टी के ही पवन चंदेल हैं। पवन चंदेल ने पार्टी टिकट न मिलने से रुष्ट होकर बगावत का झंडा उठा लिया है,अब वह आज नामांकन पत्र दाखिल करने वाले हैं। उन्हें पार्टी ने इस उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी डॉ. अनिल धीमान का कवरिंग कैंडिडेट बनाया था,पर अब तो पवन चंदेल खुद ही आजाद तौर पर कैंडिडेट होंगे।वर्तमान में भोरंज से जिला परिषद सदस्य पवन चंदेल आरएसएस से जुड़े रहे हैं,उन्हें कई हिंदू संगठनों का भी समर्थन हासिल है।

दे सकते हैं इस्तीफा

दे सकते हैं इस्तीफा

ऐसा भी पता चला है कि आज पवन के नामांकन से पहले कई बीजेपी कार्यकर्ता भी भगवा पार्टी को अलविदा करते हुए अपने इस्तीफे देंगे। पवन का कहना है कि वह नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद अपनी बात पत्रकारों के सम्मुख रखेंगे। याद रहे कि भोरंज उपचुनाव ईश्वर दास धीमान के निधन के बाद होने जा रहा है। पार्टी ने उनके बेटे डॉ.अनिल धीमान को अपना प्रत्याशी घोषित किया है।

कांग्रेस ने बदला प्रत्याशी

कांग्रेस ने बदला प्रत्याशी

दूसरी ओर भोरंज उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी ने मात्र 24 घंटे में ही अपना प्रत्याशी बदल दिया है। अब प्रेम कौशल की जगह प्रोमिला कांग्रेस की और से चुनाव लड़ेगी। सोमवार को उन्हें पार्टी ने अपना कैंडिडेट घोषित किया । हालांकि इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने प्रेम कौशल को पार्टी का प्रत्याशी घोषित किया था ,लेकिन सोमवार सुबह ही प्रोमिला को प्रत्याशी घोषित किया गया। प्रोमिला वर्तमान में राज्य महिला आयोग की सदस्य है और दो बार समीरपुर वार्ड से जिला परिषद की सदस्य रह चुकी हैं। प्रेम कौशल का नाम फाइनल होने के करीब अढ़तालीस घंटे बाद ही टिकट पर घमासान मचा और प्रेम कौशल का टिकट काट कर प्रोमिला को टिकट दिया गया। (फोटो में प्रेम कौशल)

9 लोगों ने किया था आवेदन

9 लोगों ने किया था आवेदन

भोरंज उपचुनाव के लिए कांग्रेस के 9 लोगों ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पास टिकट के लिए आवेदन किया था। चर्चा के बाद पांच सदस्यों का पैनल हाइकमान के पास फाइनल करने के लिए भेजा गया था।पार्टी के भीतर हुए इस टिकट के खेल पर सभी हैरान है। जाहिर है कि पूर्व में भोरंज उपचुनाव के लिए प्रोमिला ने प्रबल दावेदार होने का दावा किया था। भोरंज विधानसभा क्षेत्र में प्रोमिला पिछले 19 वर्षों से राजनीति में सक्रिय हैं। अब कांग्रेस हाईकमान ने उन पर विश्वास जताते हुए कौशल का टिकट काट कर उनको पार्टी का प्रत्याशी बनाया है। (फोटो में कांग्रेस की नई प्रत्याशी)

ये भी पढ़ें: अरुणाचल प्रदेश में आया बर्फीला तूफान, अंधेरे में इंडियन आर्मी ने बचाई 127 जिंदगियां

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Byelection on Bhoranj seat of Himachal Pradesh
Please Wait while comments are loading...