झारखंड: पुलिस की फायरिंग में 4 ग्रामीणों की मौत, 10 घायल

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारत की सबसे बड़ी विद्युत कंपनी, एनटीपीसी का खनन अभियान स्थगित करने भूमि अधिग्रहण का निपटरा करने और विस्थापित व्यक्ति के लिए रोजगार की मांग कर रहे लोगों पर झारखंड स्थित जिला हजारीबाग के बरकागांव थानान्तर्गत डरही काला गांव में शनिवार (1 अक्टूबर) को स्थानीय पुलिस की गोलाबारी में 4 ग्रामीणों की मौत हो गई।

jharkhand

सर्जिकल स्ट्राइक की रात चांद ने भी दिया था भारतीय सेना का साथ

इस कार्रवाई में पुलिस सहित 10 से ज्यादा लोगों के घायल होने की भी सूचना है।

घटना के बाद राज्य के मुख्यमंत्री रघुबर दास ने गृह सचिव की अध्यक्षता में तीन सदस्य कमेटी की घोषणा की है। कमेटी इस मामले की जांच करेगी।

तब चलाई गोली

बताया गया कि यह घटना तब हुई जब पुलिस बल धरना स्थल पर पहुंचा और वहां मौजूद प्रदर्शनकारियों ने पथराव शुरू कर दिया। प्रदर्शनकारी ग्रामीण कांग्रेस विधायक निर्मला देवी के नेतृत्व में प्रदर्शन कर रहे थे।

कावेरी विवाद पर कर्नाटक सरकार दायर करेगी रिव्यू पिटिशन- मुख्यमंत्री

इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी कि जब प्रदर्शनकारी हिंसक हो गए तब पुलिस ने उन्हें नियंत्रित करने के लिए बल प्रयोग किया। इस दौरान गोलियां भी चलाई गई। इसमें 4 लोगों की मौत हो घई और 10 से ज्यादा लोग घायल हो गए।

फिलहाल राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों और प्रमुख सचिव के साथ 1 हफ्ते की अमेरिका यात्रा पर गए मुख्यमंत्री रघुबर दास ने वहां से संदेश भेजा। अपने संदेश में रघुबर दास ने घटना पर दुख व्यक्त किया।

jharkhand

साथ ही घोषणा की कि गृह सचिव एनएन पांडेय की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय कमेटी इस मामले की जांच करेगी।

ये अधिकारी हैं कमेटी में शामिल

रघुबर दास ने आदेश दिए है कि घटना स्थल का तत्काल दौरा कर रिपोर्ट पेश की जाए।

अमेरिकी सांसदो ने उरी हमले पर जताई संवेदना, किया भारत का समर्थन

रघुबर दास की ओर से घोषित की गई जांच कमेटी में गृह सचिव के साथ साथ मंत्रिमंडल सचिव एसएस मीणा और सीआईडी के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अजय कुमार सिंह भी शामिल हैं।

इस घटना पर कांग्रेस ने मांग की है कि मृतकों के परिजनों को 25 लाख रुपए, नौकरी और घायलों को पांच लाख रुपए देने की घोषणा की जाए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Men died and injured in firing by jharkhand police hazaribagh
Please Wait while comments are loading...