शौच करती महिलाओं की फोटो खींचने से रोकने पर मजदूर नेता की हत्या, सांप्रदायिक तनाव

Subscribe to Oneindia Hindi

जयपुर। राजस्थान के प्रतापगढ़ इलाके में खुले में शौच करती महिलाओं की फोटो उतार रहे नगरपालिका के कर्मचारियों को एक आदमी ने रोका तो उनलोगों ने उसे पीट-पीटकर मार डाला। मृतक की पहचान जफर खान के रूप में हुई है जो इलाके में सामाजिक कार्यकर्ता और मजदूर नेता के तौर पर जाना जाता है।

Read Also: 'मेरी मां ने मुझे 10 लाख में बेच दिया है, बचा लो'

कर्मचारियों ने जफर खान को मार डाला

कर्मचारियों ने जफर खान को मार डाला

मिली जानकारी के मुताबिक, प्रतापगढ़ के कच्ची बस्ती क्षेत्र में नगरपालिक के कुछ कर्मचारी खुले में शौच करती महिलाओं रोक रहे थे और उनकी फोटो खींच रहे थे। 50 वर्षीय जफर खान ने जब उनको ऐसा करने से रोका तो कर्मचारियों ने मिलकर उसको बुरी तरह पीटा। घायल जफर ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

जफर खान की हत्या के बाद इलाके में बवाल

जफर खान की हत्या के बाद इलाके में बवाल

जफर खान राजस्थान मजदूर निर्माण संगठन के जिलाध्यक्ष थे। जफर खान के परिजन, संगठन के लोग और बस्ती निवासी जिला अस्पताल पहुंचे जहां जफर खान का शव रखा था। उन्होंने मुआवाजा और हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग की। बवाल बढ़ने लगा और आक्रोशित लोगों ने राजमार्ग पर जाम लगा दिया। पुलिस ने बल का प्रयोग कर भीड़ को खदेड़ा।

मामले ने लिया सांप्रदायिक रूप, तनाव

मामले ने लिया सांप्रदायिक रूप, तनाव

मामला दो समुदायों से जुड़ा होने की वजह से इलाके में सांप्रदायिक तनाव फैल गया। पुलिस तुरंत हरकत में आई और इस हत्या के मामले में चार आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस इलाके में गश्त कर रही है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

इलाके में भारी पुलिस बल तैनात

इलाके में भारी पुलिस बल तैनात

इस मामले में एसपी शिवराज मीणा ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने की पुष्टि की है। इलाके के एसएचओ मांगीलाल विश्नोई ने भी कहा है कि मामला संवेदनशील है इसलिए पुलिस फोर्स इलाके में तैनात है। मामले की जांच की जा रही है और आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Read Also: दलित लड़की के घरवालों ने प्रेमी को बेरहमी से पीटा, जारी किया वीडियो

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Communal tension after an activist lynched for objecting photography of woman defecating.
Please Wait while comments are loading...