भाजपा मिनिस्टर की गाड़ी से 92 लाख रुपए के 500-1000 के नोट जब्त

महाराष्ट्र में भाजपा शासित सरकार में मंत्री के बैंक की गाड़ी से बरामद हुए प्रतिबंधित नोट। मंत्री की बर्खास्तगी की मांग।

Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। नरेंद्र मोदी सरकार के नोटबंदी के ऐलान के बाद पुलिस ने चेकिंग के दौरान महाराष्ट्र सरकार में को-ऑपरेटिव मिनिस्टर और भाजपा नेता के लोक मंगल बैंक की गाड़ी से 500-1000 के नोट में 91.5 लाख रुपए का कैश जब्त किया है। विरोधी दलों ने भाजपा मंत्री की बर्खास्तगी की मांग की है।

Read Also: नोटबंदी के खिलाफ भाजपा सांसदों ने ही खोला मोर्चा

लोक मंगल ग्रुप के के मालिक हैं मंत्री सुभाष देशमुख

महाराष्ट्र में भाजपा सरकार के सहकारिता मंत्री सुभाष देशमुख लोक मंगल ग्रुप के मालिक हैं। लोक मंगल बैंक का कर्मचारी कैश लेकर जा रहा था कि उस्मानाबाद में पुलिस ने रूटिन चेकिंग के दैरान गाड़ी को रोका और तलाशी के दौरान मिले लाखों रुपए के 500-1000 रुपए को नोट को जब्त कर लिया।

उस्मानाबाद डीएम ने की जब्ती की पुष्टि

उस्मानाबाद के डीएम प्रशांत नरनावरे ने मंत्री के बैंक की कार से कैश जब्त किए जाने की पुष्टि की है। डीएम ने कहा कि उस्मानाबाद में नगरपालिका चुनाव होनेवाले हैं इसलिए इलाके में सख्त चेकिंग चल रही है।

मंत्री देशमुख ने दी मामले पर सफाई

सहकारिता मंत्री सुभाष देशमुख ने कैश जब्ती के मामले पर अपनी सफाई दी है। उनका कहना है कि लोक मंगल ग्रुप से जुड़े सुगर फैक्ट्री के कर्मचारियों को सैलरी देने के लिए यह कैश भेजा जा रहा था।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की दी सूचना

डीएम ने बताया है कि लोक मंगल ग्रुप से इस कैश के बारे में बताने के लिए कहा गया है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को इस कैश के बारे में सूचना दे दी गई है। अगर लोक मंगल ग्रुप ने इस कैश पर टैक्स चुकाया होगा तो उसे यह लौटा दिया जाएगा लेकिन अगर ऐसा नहीं हुआ तो कानून के अनुसार ग्रुप के खिलाफ कदम उठाए जाएंगे।

 

एनसीपी ने की मंत्री की बर्खास्तगी की मांग

प्रदेश में शरद पवार की एनसीपी और कांग्रेस पार्टी ने सीएम देवेंद्र फड़नवीस से मांग की है कि काला धन के मामले में फंसे मंत्री सुभाष देशमुख को तुरंत बर्खास्त किया जाना चाहिए। लोक मंगल ग्रुप पहले भी वित्तीय अनियमितता को लेकर सेबी के रडार पर रहा है।

एनसीपी के पार्टी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा है कि प्रदेश में भाजपा नेताओं ने सबसे ज्यादा काला धन जमा कर रखा है इसलिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को उनके कार्यालय और आवास पर छापा मारना चाहिए।

कांग्रेस ने कहा, भाजपा नेताओं के खिलाफ जांच हो

कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने भी एनसीपी के सुर में सुर मिलाते हुए कहा है कि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को सभी भाजपा नेताओं के पिछले छह महीने के ट्राजेक्शंस की जांच करनी चाहिए।

सावंत ने कहा कि मोदी सरकार ने भाजपा के वरिष्ठ नेताओं और बड़े उद्योगपतियों को 500-1000 के नोट बैन किए जाने की सूचना लीक की। प्रदेश में देशमुख के अलावा एक अन्य भाजपा नेता की गाड़ी से काफी मात्रा में कैश मिले थे।

Read Also: नोट बंदी के बाद भाजपा को बड़ा झटका, सभी 17 सीटें हारी

 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
After demonetization,Maharashtra police in a routine check found 92 lakh rupees in vehicle belonging to BJP leader and Maharashtra govt minister.
Please Wait while comments are loading...