पाकिस्‍तानी लड़की ने 'ब्रेस्‍ट' का मजाक उड़ाने वाले लड़कों को लताड़ा, फेसबुक पोस्‍ट वायरल

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। पाकिस्‍तान में एक लड़की ने ब्रेस्‍ट कैंसर का मजाक उड़ाने वाले लड़कों को जमकर लताड़ा है। वो लड़के ब्रेस्‍ट कैंसर का मजाक सिर्फ इसलिए उड़ा रहे थे क्‍योंकि इसमें 'ब्रेस्‍ट' शब्‍द जुड़ा था।

आधी रात को पत्नी संग दिल्‍ली की सुनसान सड़कों पर निकल पड़े केजरीवाल, जानिए क्‍यों

This Pakistani Girl Has The Perfect Response For People Who 'Joke' About Breast Cancer
  

लड़की का नाम फमा हसन है और वो उस वक्‍त वहीं से गुजर रही थी जब लड़के इस बारे में बात कर रहे थे। फमा ने उन्‍हें सबक सिखाते फेसबुक पर एक पोस्‍ट लिखा जो अब वायरल हो गया है। तो आईए आपको बताते हैं फमा ने अपने फेसबुक पोस्‍ट में क्‍या लिखा:

फमा ने अपने फेसबुक पोस्‍ट में लिखा है कि 'मैं क्लास से बाहर निकली और फाटक की ओर अपनी कार की तरफ जा रही थी। उस वक्त मैंने 7वीं या 8वीं कक्षा के बच्चों को बातचीत करते हुए सुना। वो ब्रेस्‍ट कैंसर के संबंध में बात कर रहे थे और ब्रेस्‍ट शब्‍द का मजाक उड़ा रहे थे।' लड़के आपस में बात कर रहे थे कि

पहला लड़का : ओए वो क्या कह रहे थे?

दूसरा लड़का : पता नही यार, 'स्तन कैंसर' का कुछ करने आए थे। उसी के बारे में बताया जा रहा था। इसके बाद उन्होंने गंदी बात बोली।

तीसरा लड़का : आंय! फिर तीनों ठहाके लगाने लगे।

फमा ने आगे लिखा कि ''यूनिवर्सिटी से घर आने तक मैं पूरे रास्ते शर्मिंदगी महसूस करती रही। अब जबकि मैं यह लिख रही हूं, तो भी शर्मिंदगी महसूस करती रही हूं। हम एक ऐसे समाज में रह रहे हैं, जहां बुनियादी मानव अंगों को इस हद तक सेक्सुअलाइज कर दिया गया है कि कैंसर जैसी बीमारी में भी मजाक बनाया जा रहा है।

तेज-तर्रार लेडी IAS स्‍वाति मीणा का VIDEO वायरल, कर रही हैं दनादन फायरिंग 

हर साल पाकिस्‍तान में ब्रेस्‍ट कैंसर से होती है 40 हजार मौतें

अपने फेसबुक पोस्‍ट में फमा हसन ने लिखा है कि कम ही लोग जानते हैं कि अकेले पाकिस्तान में इस बीमारी के कारण 40,000 से अधिक महिलाओं की हर साल मौत हो जाती है। वे लोग बेहद भाग्यशाली हैं, जिनको समय से इसकी रिपोर्ट मिल पाती है। कम ही लोग जानते हैं कि एशिया में स्तन कैंसर की सबसे ज्यादा मामले पाकिस्तान में सामने आते हैं।

 

Fama Hasan

यह वास्तव में इस सामाजिक व्यवस्था की वजह से है, जिसमें महिलाएं चिकित्सा जांच कराने में अनिच्छुक रहती हैं और अपनी समस्या के बारे में परिवार से सदस्यों तक से बात नहीं करती हैं। अंत में वे मर जाती हैं क्योंकि जब तक बीमारी का पता चलता है, तब तक काफी देर हो चुकी होती है।

पढि़ए फमा हसन का फेसबुक पोस्‍ट

 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A Pakistani woman has lambasted those among her countrymen who sexualize the human body so much, that for them, even a conversation about breast cancer becomes akin to 'locker-room talk'.
Please Wait while comments are loading...