पाक में आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई के मुद्दे पर सेना और सरकार में अनबन

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। पाकिस्तान की नवाज सरकार ने पाकिस्तानी सेना से कहा कि वे आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई करें। इसके बाद से ही सेना और सरकार के बीच अनबन का माहौल पैदा हो गया।

nawaz

पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के अनुसार पाक पीएम नवाज शरीफ, आईएसआई चीफ रिजवान अख्तर और पाक विदेश सचिव एजाज चौधरी की मौजूदगी में कहा पाकिस्तान कूटनीतिक रूप से अलग-थलग पड़ रहा है।

पाक ने किया दावा- भारतीय टीवी चैनल ने चलाया एसपी का नकली इंटरव्यू

कहा गया कि पाक पर दबाव है कि वो जैश-ए-मोहम्मद और हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ कार्रवाई करे और पठानकोट मामले की जांच को आगे बढ़ाए।

शरीफ ने की कोशिश

इसके बाद पाक पीएम नवाज शरीफ ने कोशिश की कि वे सेना के खिलाफ जाएं लेकिन कुछ ही देर बाद ऐसी उम्मीदों पर पानी फिर गया।

पाक पीएम के  दफ्तर से  कहा गया कि रिपोर्ट (अखबार की)  गढ़ंत और आधा सच है। साथ ही सेना और आईएसआई के पक्ष में कहा गया कि वे सभी तरह के आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई कर रहे हैं।

हरीकेन मैथ्यू: हैती में मरने वालों की संख्या बढ़ी,फ्लोरिडा में मची खलबली

पाक पीएम के कार्यालय ने कहा कि रिपोर्ट भ्रामक थी। रिपोर्ट को काल्पनिक तथा जालसाजी का मिला जुला रूप बताया गया।

कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि इससे यह जाहिर हो जाता है कि शरीफ फिर से मुकर गए।

पाक पीएम के दफ्तर ने कहा...

पीएम कार्यालय की ओर से कहा गया कि इंटेलीजेंस एजेंसियां, प्रायः आईएसआई, देश और प्रांतीय स्तर पर मिलकर देश की नीति पर काम कर रही है।

बोली भाजपा- हताशा में बयान दे रहे हैं राहुल, दलाली से इनका है पुराना नाता

गौरतलब है कि जम्मू और कश्मीर स्थित उरी में भारतीय सेना के बेस कैंप पर हुए हमले के बाद पाकिस्तान पर चौतरफा दबाब बढ़ा है।

साथ ही भारत के साथ अन्य देशों की ओर से सार्क बैठक में शामिल न होने से पाक की हर ओर फजीहत हुई है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rift between Pakistan's government and army on matter of action against militant.
Please Wait while comments are loading...