क्‍वेटा पर 36वां आतंकी हमला, पाक में इस वर्ष सांतवां बड़ा आतंकी हमला

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

क्‍वेटा। एक बार फिर पाकिस्‍तान के क्‍वेटा ने एक बड़े आतंकी हमले को झेला है। सोमवार को देर रात पुलिस एकेडमी पर हुए आतंकी हमले में अब तक करीब 60 लोगों की मौत हो चुकी है।

पढ़ें-पाक में मौजूद 10 खतरनाक आतंकी संगठनों के बारे में

वर्ष 2016 में क्‍वेटा में 36 आतंकी हमले हुए हैं और इन हमलों में घायलों की संख्‍या 227 तक पहुंच चुकी है। वहीं अगर घायलों की बात करें तो यह संख्‍या 330 है।

कौन है जिम्‍मेदार

कौन है जिम्‍मेदार

क्‍वेटा के पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज पर हुए हमलों से जुड़ी एक और जानकारी जो सामने आ रही है उसके मुताबिक हमलावर अफगानिस्‍तान में मौजूद अपने हैंडलर्स के साथ लगातार संपर्क बनाए हुए थे। अभी तक किसी संगठन ने इस आतंकी हमले की जिम्‍मेदारी नहीं ली है लेकिन हमले के पीछे लश्‍कर-ए-झांगवी को जिम्‍मेदार बताया माना जा रहा है।

दो बार आतंकी हमले का शिकार

दो बार आतंकी हमले का शिकार

जिस ट्रेनिंग कॉलेज पर आतंकी हमला हुआ वह वर्ष 2006 और वर्ष 2008 में भी आतंकी हमले का शिकार हो चुका है। वर्ष 2006 में जब क्‍वेटा के इसी कॉलेज पर आतंकी हमला हुआ था तो एंटी-टेररिस्‍ट फोर्स के छह पुलिस वालों की मौत हो चुकी थी। तब पांच शक्तिशाल धमाके हुए थे और धमाकों ने पुलिस एकेडमी को हिला कर रख दिया था।

वर्ष 2008 का आतंकी हमला

वर्ष 2008 का आतंकी हमला

वर्ष 2008 में जो आतंकी हमला हुआ उसमें कॉलेज पर रॉकेट और गोलियों की बरसात हुई। हमले में सिर्फ एक व्‍यक्ति घायल हुआ। इसी दिन क्‍वेटा के रेलवे स्‍टेशन पर भी आतंकी हमला हुआ था। क्‍वेटा में इसी वर्ष अगस्‍त और सितंबर में भी अस्‍पतालों पर आतंकी हमले हुए हैं। अगस्‍त में जो आतंकी हमला अस्‍पताल पर हुआ था उसमें 73 लोगों की मौत हो गई थी। उस हमले की जिम्‍मेदारी जमात-उल-अहरार ने ली थी।

इस वर्ष पाक में सात बड़े आतंकी हमले

इस वर्ष पाक में सात बड़े आतंकी हमले

क्‍वेटा के नए हमले के साथ ही वर्ष 2016 में पाकिस्‍तान ने सात बड़े आतंकी हमलों को झेला है और 13 जनवरी को पहला आतंकी हमला दर्ज किया गया। यह हमला पोलियो बूथ पर हुआ। हमले को तालिबान के आत्‍मघाती हमलावरों ने अंजाम दिया और इसमें 15 लोगों की मौत हो गई थी तो सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

20 जनवरी बाचा खाना यूनिवर्सिटी

20 जनवरी बाचा खाना यूनिवर्सिटी

पाकिस्‍तान के पेशावर स्थित बाचा खान यूनिवर्सिटी पर 20 जनवरी को आतंकी हमला हुआ। इस हमले में कम से कम 25 लोगों की मौत हो गई थी। नॉर्थ-वेस्‍ट पाकिस्‍तान में हुए इस हमले की जिम्‍मेदारी तहरीक-ए-तालिबान ने ली थी। हमले ने वर्ष 2014 में पेशावर के आर्मी स्‍कूल पर हुए हमले की यादें ताजा कर दी थीं।

पेशावर बस बॉम्बिंग

पेशावर बस बॉम्बिंग

16 मार्च को पेशावर में उस बस पर हमला हुआ जो सरकारी अधिकारियों को लेकर जा रही थी। हमले में पाक सरकार के 16 कर्मचारियों की मौत हो गई थी और करीब 30 कर्मचारी घायल हुए थे। तालिबान ने उस समय हमले की जिम्‍मेदारी ली थी। खबरें आई थीं कि तालिबान ने एक दिन पहले अपने 13 आतंकियों की मौत का बदला लेने के लिए इस आतंकी हमले को अंजाम दिया था।

लाहौर सुसाइड अटैक

लाहौर सुसाइड अटैक

27 मार्च को लाहौर में एक आत्‍मघाती हमला हुआ। इस हमले में 72 लोगों की मौत हुई जिसमें सबसे ज्‍यादा संख्‍या महिलाओं और बच्‍चों की थी। हमला रविवार के दिन एक पार्क में हुआ और इसका टारगेट क्रिश्चियन समुदाय के लोग थे। हमले में 300 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

  
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Quetta has been attacked yet again. The death toll in incidents of terror at Quetta for the year 2016 is at 227.
Please Wait while comments are loading...