भारत के साथ सभी मुद्दों को प्यार से सुलझाना चाहते हैं: पाकिस्तान

भारत और पाकिस्तान के बीच पिछले कुछ समय से लगातार तनाव के बीच पाक की ओर से एक संदेश दिया गया है। पाक ने कहा है कि दोनों देशों को बातचीत से मुद्दों को सुलझाना चाहिए।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

इस्लामाबाद। भारत-पाकिस्तान के रिश्तों इस समय जबरदस्त तनाव है। विशेषज्ञ मान रहे हैं कि मुंबई अटैक के बाद पहली बार रिश्तों में इतनी ज्यादा तनातनी देखने को मिली है। रिश्तों में लगातार तनाव के बीच पाकिस्तान ने कहा है कि वो भारत के साथ तमाम मुद्दों का शांतिपूर्ण हल चाहता है। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नफीस जकारिया ने कहा है कि हम भारत के साथ सभी मुद्दों को अमन और बातचीत के जरिए सुलझाना चाहते हैं।

भारत के साथ सभी मुद्दों को प्यार से सुलझाना चाहते हैं: पाकिस्तान

जकारिया ने कहा कि भारत-पाक के बीच कश्मीर एक ऐसा मुद्दा है, जिसको हल किए बिना दोनों देशों के रिश्तों को पटरी पर लाना मुश्किल काम है। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को भी कश्मीर की समस्या के हल के लिए आगे आना चाहिए। भारत के सिंधु जल समझौते पर पुनर्विचार की खबरों पर नफीस जकारिया ने कहा कि कोई देश एकतरफा फैसला नहीं कर सकता, भारत अकेले किसी समझौते को बदल नहीं सकता है। उन्होंने कहा कि विवादों को पहले भी शांति से निपटाया गया है और अभी भी जो विवाद दोनों देशों के बीच है उनका भी हल निकाला जा सकता है।

पिछले कुछ दिन से एक बार फिर भारत-पाक के बीच रिश्तों में गर्माहट देखने को मिली है। ये शुरुआत तब हुई जब पीएम मोदी ने पाक पीएम नवाज शरीफ को ट्ववीट कर जन्मदिन की मुबारकबाद दी। इसके बाद उनकी बेटी ने पीएम का शुक्रिया किया। हाल ही में पाक पीएम ने भारत की विदेश मंत्री को जल्दी सेहतमंद हो जाने के लिए भी दुआएं दी हैं। आपको बता दें कि सितंबर माह में कश्मीर में उरी में भारतीय सैनिकों पर हमले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव पैदा हुआ जो लगातार पिछले तीन-चार महीने से लगातार बढ़ता ही रहा है। उरी हमले के बाद दोनों देशों के बीच तनाव का असर इस बार फिल्मी कलाकारों पर भी पड़ा और पाक कलाकारों को भारत से अपने देश लौटना पड़ा। पढ़ें- पीएम मोदी के बर्थडे विश के बाद पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ ने सुषमा स्वराज को लिखी चिट्ठी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
pakistan Want amicably resolve all issues with India
Please Wait while comments are loading...