पाक के वकील ने कहा भारत से 'डासिंग गर्ल' वापस लें नवाज

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

लाहौर। पाकिस्‍तान के एक वकील ने लाहौर हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की है जिसमें उन्‍होंने पाक सरकार से मांग की है कि सरकार भारत से 5,000 वर्ष पुरानी कांसे की मूर्ति को वापस लेकर आएं। इस मूर्ति का नाम 'डासिंग गर्ल' है। सोमवार को जमाल शाह नामक वकील की ओर से यह याचिका दायर की गई है।

dancing-girl-of-mohenjodaro

पढ़ें-सर्जिकल स्‍ट्राइक्‍स ने बढ़ाई पाक सेना और लश्‍कर में दूरी!

क्‍या है डासिंग गर्ल

कांसे की बनी डासिंग गर्ल 10.5 सेंटीमीटर लंबी मूर्ति है और बताते हैं कि यह 2600 ईसा के आसपास की है। यह मोहेनजोदाड़ो सभ्‍यता के खत्‍म होने के बाद सन 1926 में मिली थी। पाक अखबार डॉन की ओर से इस बात की जानकारी दी गई है।

पढ़ें-नवाज ने कहा कोई ताकत कश्‍मीर को समर्थन देने से नहीं रोक सकती

60 वर्ष पहले आई भारत

जमाल शाह पाक के नेशनल म्‍यूजियम ऑफ आर्ट के डायरेक्‍टर जनरल भी हैं। डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक करीब 60 वर्ष पहले इसे दिल्‍ली स्थित नेशनल आर्ट्स कांउसिल के अनुरोध पर भारत ले जाया गया थ। इसके बाद से इसे कभी वापस नहीं लाया गया।

यूनेस्‍को को भी लिखेंगे चिट्ठी

वहीं जमाल शाह ने अपने एक बयान में कहा है कि यूनेस्‍को को भी वह एक चिट्ठी लिखेंगे जिसमें इस मूर्ति को वापस लाने की मांग की जाएगी। जमाल शाह के मुताबिक‍ पाक को अपनी संस्‍कृति की रक्षा करनी होगी।

पढ़ें-आतंकवाद पर चीन का दोहरा रवैया आया सामने

मोना लिसा जितनी अहमियत

जमाल की मानें तो इस मूर्ति की वही अहमियत है जो लियोनार्डो दा विंची की मोना लिसा की बनाई हुई पेंटिंग की यूरोप में है। जमाल ने इस मूर्ति को पाक की सांस्‍कृतिक धरोहर का अहम हिस्‍सा करार दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A Pakistani lawyer Jamal Shah has filed a petition in Lahore high court demanding to bring back 'Dancing Girl' from India.
Please Wait while comments are loading...