PAK के चीफ जस्टिस ने आतंकवाद पर खोली पाकिस्तान की पोल

Subscribe to Oneindia Hindi

इस्लामाबाद। अपनी सरजमीं पर आतंकवाद का अड्डा होने की बात को हमेशा से नकारते आ रहे पाकिस्तान की पोल खुल गई। पाकिस्तान के चीफ जस्टिस ने कहा कि कि वहां की कुछ राजनीतिक पार्टियां आतंकवाद का समर्थन कर रही हैं। उन्होंने पार्टियों को कड़ी फटकार लगाई।

Pak Chief justice

पाकिस्तान के चीफ जस्टिस के इस बयान से भारत के उस दावे में और दम आ गया है जिसमें अलग-अलग अंतरराष्ट्रीय मंचों पर पाकिस्तान में आतंकवाद की पनाह होने की बात कही गई थी।

पढ़ें: शरीफ ने अमेरिका में उठाया कश्मीर मुद्दा, उरी हमले पर चुप्पी

'आतंकवाद को मिल रहा है आंतरिक संरक्षण'
पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, चीफ जस्टिस अनवर जहीर जामली ने कहा, 'यह बेहद निराशाजनक है कि कुछ राजनीतिक पार्टियां अपने फायदे के लिए आतंकियों का साथ दे रही हैं। आतंकी वकीलों और जजों को डराने के लिए कोर्ट को निशाना बनाते हैं।' उन्होंने कहा कि आतंकवाद को पाकिस्तान में आंतरिक संरक्षण मिल रहा है।

पढ़ें: उरी आतंकी हमले ने बढ़ा दी चीन की टेंशन, लगाएगा PAK की क्लास

उन्होंने अपील की कि विभिन्न संस्थाओं को सही ढंग से काम करना चाहिए ताकि देश में स्थिरता आए। जामली ने कहा, 'एक-दूसरे के कार्य में हस्तक्षेप किए बिना सभी संस्थाओं को अपने अधिकार क्षेत्र में सही ढंग से काम करना चाहिए।'

पढ़ें: AAP की मुश्किलें बढ़ीं, एक और विधायक पर केस दर्ज

उरी हमले में भी पाक का कनेक्शन
बता दें कि रविवार को जम्मू-कश्मीर के उरी में हुए आतंकी हमले में भी पाकिस्तान का हाथ होने के सबूत मिल रहे हैं। मारे गए आतंकियों के पास मिले हथियार पाकिस्तान में बने हैं। साथ ही उनके पास कुछ और सामान भी मिला है। भारत ने पाकिस्तान से हमले को लेकर आपत्ति भी जताई है लेकिन वहां की सरकार और सेना ने इसे भारत की साजिश करार दिया। हमले में 18 जवान शहीद हुए हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
PAK chief justice slams political parties for endorsing terrorism.
Please Wait while comments are loading...