पाक पत्रकार की खबर को सेना ने बताया बनावटी, कहा- यह राष्ट्रीय सुरक्षा में सेंध

Subscribe to Oneindia Hindi

इस्लामाबादपाकिस्तानी सेना ने कहा है कि हाई लेवल मीटिंग से कोर कमांडरों की राय का लीक होना राष्ट्रीय सुरक्षा में चूक है।

pakistan

फोटो: इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशन

पाकिस्तान के अंग्रेजी अखबार डॉन.कॉम के अनुसार इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशन की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि प्रधानमंत्री के आवास पर हुई आवश्यक सुरक्षा बैठक के संबंध में बनावटी स्टोरी राष्ट्रीय सुरक्षा में सेंध है।

श्रीनगर के जकूरा में सीआरपीएफ कैंप पर आतंकी हमला

इस मीटिंग की अध्यक्षता पाक सेना के अध्यक्ष जनरल राहिल शरीफ ने की। इसमें सभी कोर कमांडर और प्रमुख स्टाफ अधिकारी मौजूद थे।

ये है मामला

बता दें कि बीते दिनों पाक अखबार डॉन के ही पत्रकार सिरिल अलमेड़ा ने सरकार और सेना की एक मीटिंग पर एक खबर लिखी थी, जिसमें दावा किया गया था कि सरकार ने सेना से कहा है कि या तो आतंकियों के खिलाफ सेना कार्रवाई करें या फिर अंतरराष्ट्रीय अलगाववाद का सामना करे।'

कांग्रेस और सिद्धू के बीच बनेगा कैसा रिश्ता, जल्द होगी इसकी घोषणा

इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद पाकिस्तान सरकार और सेना ने इसका खंडन किया था। साथ ही इसी हफ्ते के सोमवार (10 अक्टूबर) को पत्रकार सिरिल का नाम पाक सरकार ने एक्जिट कंट्रोल लिस्ट (इसीएल) में डाल दिया था।

इसके बाद बृहस्पतिवार (13 अक्टूबर) को उसे हटा लिया गया है।

जयललिता के खराब स्‍वास्‍थ्‍य की खबर पढ़ समर्थक ने खाया जहर

इसलिए लगाया गया इसीएल

बता दें कि सिरिल का नाम इसीएल में डालने के पीछे सरकार ने तर्क दिया था कि वो कहीं बार जाने की तैयारी कर रहे थे।

हमें पाकिस्तानियों से नहीं पाक के आतंकवाद से है नफरत: राजनाथ सिंह

वहीं जब इसीएल हटाया गया तो इस पर पाक सरकार के मंत्री निसार चौधरी ने कहा था कि इस सूची में किसी का भी नाम बिना जांच के नहीं डाला नहीं जाता।

उन्होंने कहा था कि ऐसे में अब सिरिल के मामले की जांच होगी। 3-4 दिन के भीतर परिणाम आने के बाद फैसला लिया जाएगा।

फिर कहा सर्जिकल स्ट्राइक का दावा फर्जी

इस मीटिंग के दौरान भारत की ओर से पाक अधिकृत कश्मीर में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक को भी फर्जी बताया गया।

इस दौरान पाकिस्तान के आंतरिक और बाहरी सुरक्षा के हालातों पर भी चर्चा की गई।

भोपाल: शौर्य स्मारक में सैनिकों को लेकर PM मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

मीटिंग में आए अधिकारियों ने सर्जिकल स्ट्राइक से जुड़े भारत के दावों को खारिज किया और कहा कि यह एक चाल है जिससे दुनिया का ध्यान भारतीय सेना की ओर से कश्मीर में किए जा रहे अत्याचार पर किसी की नजर न जाए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pak army expressed serious concern over feeding of false and fabricated story of an important security meeting held at PM house and viewed it as breach of national security.
Please Wait while comments are loading...